बिहार: ‘सुशासन बाबू’ के राज में फिर हुई मॉब लिंचिंग, डीजल चुराते युवक को भीड़ ने पीट-पीटकर मार डाला

डीजल चुराते हुए युवक को लोगों ने रंगे हाथों चोरी पकड़ लिया और बिना कुछ सुने बेरहमी से उसे मरना पीटना शुरू कर दिया। भीड़ ने उस युवक को इतना मारा कि वह अधमरा होकर जमीन पर गिर गया। युवक को मरता देख कर भीड़ में मौजूद लोग उसे वहीं छोड़कर भाग गए।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

बिहार में सुशासन बाबू के राज में कानून व्यवस्था की खुलेआम धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। राज्य में आए दिन भीड़ द्वारा पीट-पीट कर हत्या की घटनाएं कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। ताजा मामला राजधानी पटना का है, जहां डीजल चोरी करने के आरोप में भीड़ ने एक युवक की पीट पीटकर हत्या कर दी। जानकारी के मुताबिक युवक सड़क के किनारे खड़ी एक गाड़ी से डीजल चुरा रहा था और तभी लोगों ने उसे रंगे हाथों पकड़ा था।

दरअसल बिहार की राजधानी पटना के फतुहा थाना क्षेत्र के नयका रोड के पास रोजाना सड़क के किनारे काफी सारे ट्रक और बड़ी गाड़ियां खड़ी होती हैं। जानकारी के मुताबिक मंगलवार देर रात को एक युवक गाड़ी से डीजल चुरा रहा था। वहां मौजूद लोगों ने उस युवक को रंगे हाथों चोरी करते पकड़ लिया और बिना कुछ सुने बेरहमी से उसे मरना पीटना शुरू कर दिया। भीड़ ने उस युवक को इतना मारा कि वह अधमरा होकर जमीन पर गिर गया। युवक को मरता देख कर भीड़ में मौजूद लोग उसे वहीं छोड़कर भाग गए।

घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने युवक को अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। पुलिस ने बताया कि जब वे घटनास्थल पर पहुंचे तो युवक खून से लथपथ मरणासन्न की स्थिति में पड़ा हुआ था। युवक की सांसें चल रही थीं। पुलिस ने उसे तुरंत पास के ही एक अस्पताल में भर्ती कराया, जहां डॉक्टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया।

कटिहार में रंगदारी देने से मना करने पर लिंचिंग

बता दें कि बिहार में इस तरह की घटनाएं आम होती जा रही हैं। अभी सोमवार को कटिहार जिले में रंगदारी देने से मना करने के बाद जमाल नाम के एक युवक की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। घटना शहर के लाभा पुल के पास हुई। घटना की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा और मामला दर्ज कर जांच करनी शुरू कर दी है। मृतक की पहचान हाजीपुर निवासी मोहम्मद जमाल के रूप में हुई थी।

लोकप्रिय
next