दुनिया की खबरें: AUS पीएम स्कॉट मॉरिसन हारे चुनाव, अल्बनीज होंगे नए प्रधानमंत्री और नॉर्थ कोरिया में कोरोना का भयानक मंजर

ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन चुनाव हार गए हैं। विपक्षी नेता एंथनी अल्बनीज देश के अगले प्रधानमंत्री बनेंगे और उत्तर कोरिया में कोरोना महामारी विकराल रूप लेता जा रहा है। वहीं,अमेरिका ने ऐसे नाजुक दौर में उत्तर कोरिया को मदद की पेशकश की है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

ऑस्ट्रेलिया में लेबर पार्टी के एंथनी अल्बनीज बनेंगे पीएम

ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन चुनाव हार गए हैं। विपक्षी नेता एंथनी अल्बनीज देश के अगले प्रधानमंत्री बनेंगे। लगातार तीन बार प्रधानमंत्री रह चुके लिबरल पार्टी के स्कॉट मॉरिसन ने अपनी हार स्वीकार कर ली है। वर्तमान सरकार के प्रति लोगों में कोरोना वायरस के खराब प्रबंधन और जीवनयापन की लागत बढ़ने की वजह से काफी गुस्सा था। इसके साथ ही जलवायु परिवर्तन और चीन को लेकर ऑस्ट्रेलियाई लोगों में बढ़ रहा डर स्कॉट मॉरीसन के खिलाफ गया। लेबर पार्टी के नेता एंथनी अल्बानीस ने भी मॉरिसन का मुकाबला करने के लिए चीन के प्रति सख्त नीति अपनाने की बात कही थी। ऑस्ट्रेलिया में सरकार का कार्यकाल 3 साल का होता है। इस बार छह कैंडिडेट प्रधानमंत्री पद की रेस में थे, लेकिन मुख्य मुकाबला मॉरिसन के गठबंधन और लेबर पार्टी के नेता एंथनी अल्बानीस के बीच बताया जा रहा था। हालांकि इस बार एंथनी अल्बानीस जीत के प्रबल दावेदार बताए जा रहे थे। अनुमानों को सही से भुनाते हुए अल्बानीस ने इस बार स्कॉट मॉरिसन को जबरदस्त पटखनी दी है। पिछली बार 2019 में हुए आम चुनावों में स्कॉट मॉरिसन को पहला चॉइस नहीं बताया जा रहा था लेकिन तमाम अटकलों को पछाड़ते हुए छोटी पार्टियों के साथ मिलकर सरकार बनाई ली थी। लेकिन इस बार उनकी किस्मत उनके साथ नहीं थी। इस बार उनके सहयोगी ही उनकी खिलाफ हो गए थे। बता दें कि ऑस्ट्रेलिया दुनिया के उन चंद देशों में शामिल है, जहां कानूनी तौर पर मतदान जरूरी है। ऐसा न करने वालों पर जुर्माना लगाया जाता है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

अंतर्राष्ट्रीय समुदाय ने थाईवान से जुड़े मामलों पर चीन का व्यापक समर्थन किया

75वीं विश्व स्वास्थ्य महासभा 22 से 28 मई तक आयोजित होगी। थाईवान की स्थानीय सरकार के विदेश मामलात विभाग ने इस बात पर खेद और असंतोष प्रकट किया कि थाईवान को इस महासभा में भाग लेने का निमंत्रण नहीं मिला। हाल ही में बहुत से देशों ने विश्व स्वास्थ्य संगठन को संदेश भेजकर इस फैसले पर चीन का समर्थन किया। साथ ही, उन्हें आशा है कि इस बार की महासभा में थाईवान से जुड़े मामलों पर कोई चर्चा नहीं की जाएगी। इसकी चर्चा में चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वनबिन ने कहा कि विश्व में केवल एक चीन है। चीन लोक गणराज्य की सरकार चीन का प्रतिनिधित्व करने वाली एकमात्र वैध सरकार है। थाईवान चीन का एक अविभाजित हिस्सा है। अगर चीन का थाईवान क्षेत्र विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा आयोजित गतिविधियों समेत अंतर्राष्ट्रीय संगठनों में भाग लेना चाहता है, तो इसे एक चीन की नीति के आधार पर किया जाना पड़ेगा। संयुक्त राष्ट्र महासभा के नंबर 2758 प्रस्ताव और विश्व स्वास्थ्य महासभा के नंबर 25.1 प्रस्ताव में इस बुनियादी नीति की पुष्टि की गयी है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS

ब्रिक्स देश पारिस्थितिक पर्यावरण के क्षेत्र में सहयोग को मजबूत करेंगे

आठवीं ब्रिक्स देशों के पर्यावरण मंत्रियों की बैठक 20 मई को वीडियो के माध्यम से आयोजित हुई। इस बैठक में एक संयुक्त बयान पारित किया गया। इस बयान के अनुसार, ब्रिक्स देशों को नीति से जुड़ी वार्ता को मजबूत करने, संयुक्त अध्ययन करना, और जलवायु परिवर्तन, जैव विविधता संरक्षण व समुद्र पर्यावरण संरक्षण आदि क्षेत्रों में सहयोग का विकास करना चाहिये। चीन ने इस बैठक की अध्यक्षता की है। बैठक का मुद्दा है हाथ में हाथ डालकर हरित व कम कार्बन वाले विकास को मजबूत करना। चीनी पारिस्थितिक पर्यावरण मंत्री व्हांग रूनछो ने कहा कि ब्रिक्स देशों के बीच पारिस्थितिक पर्यावरण से जुड़े सहयोग वैश्विक पारिस्थितिक सभ्यता के निर्माण में एक अपरिहार्य महत्वपूर्ण हिस्सा बन गया है। ब्रिक्स देशों को नयी स्थिति और नयी मांग के अनुसार पारिस्थितिक पर्यावरण सहयोग को गहन करना, वैश्विक हरित व कम कार्बन वाले विकास को मजबूत करने के लिये शक्ति देना और वर्ष 2030 अनवरत विकास का लक्ष्य पूरा करने, मानव साझा नियति समुदाय और साफ व सुन्दर दुनिया का निर्माण करने के लिये एक साथ कोशिश करनी चाहिये। दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, रूस व भारत के पर्यावरण विभागों के प्रतिनिधियों ने इस बैठक में भाग लिया और भाषण भी दिया।

फोटो: IANS
फोटो: IANS

नॉर्थ कोरिया में कोरोना का भयानक मंजर

उत्तर कोरिया में कोरोना महामारी विकराल रूप लेता जा रहा है। वहीं,अमेरिका ने ऐसे नाजुक दौर में उत्तर कोरिया को मदद की पेशकश की है। हालांकि, किम जोंग उन की तरफ से अभी तक कोई भी जवाब नहीं आया है। सियोल में आयोजित एक पत्रकार सम्मेलन को संबोधित करते अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, उन्होंने न केवल उत्तर कोरिया बल्कि चीन को भी टीके की पेशकश की है। बाइडेन और दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति यून सुक येओल ने शनिवार को मुलाकात के बाद कहा कि, उत्तर कोरिया के साथ वास्तविक कूटनीति की कोई उम्मीद नजर नहीं आ रही है। ऐसे में वे उत्तर कोरिया के परमाणु खतरे को रोकने के लिए विस्तारित सैन्य अभ्यास पर विचार करेंगे। यून सुक ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि उनका लक्ष्य उत्तर कोरिया का पूर्ण परमाणु निरस्त्रीकरण है। बता दें कि उत्तर कोरिया में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। उत्तर कोरिया ने माना है कि उनके देश में कोरोना महामारी का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है। जानकारी के मुताबिक शनिवार को बुखार के लगभग 2 लाख 20 हजार मामले सामने आए। कोरिया की आधिकारिक कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी (KCNA) के अनुसार, उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन ने कोविड महामारी विरोधी युद्ध में रणनीतियों पर चर्चा करने के लिए सत्तारूढ़ वर्कर्स पार्टी पोलित ब्यूरो की बैठक भी की थी।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

यूएस: बर्कले के स्कूलों में 3 जून तक मास्क पहनना हुआ अनिवार्य

पश्चिमी अमेरिकी राज्य कैलिफोर्निया के बर्कले में पब्लिक स्कूलों के छात्रों को सोमवार से 3 जून तक स्कूल के अंदर मास्क पहनना अनिवार्य होगा। यह घोषणा बर्कले यूनिफाइड स्कूल डिस्ट्रिक्ट के अधिकारियों ने की। घोषणा में कहा गया है कि ऑफ-कैंपस सुविधाओं में होने वाले स्नातक समारोह सहित सभी इनडोर स्कूल कार्यक्रमों में मास्क पहनना आवश्यक है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, बर्कले यूनिफाइड बे एरिया स्कूल जिलों में से एक था, जिसने मार्च की शुरूआत में क्लास में मास्क लगाना अनिवार्य है। शहर के अधीक्षक ब्रेंट स्टीफेंस ने कहा कि शहर की स्वास्थ्य अधिकारी लिसा हर्नांडेज ने यह सिफारिश की है। स्टीफंस ने कहा, "स्कूल के समारोह में हमारे अधिक से अधिक छात्र और परिवार शामिल हो सकते हैं।" बर्कले ने प्रति 1,00,000 निवासियों पर औसतन 40 दैनिक मामलों की सूचना दी। द सैन फ्रांसिस्को क्रॉनिकल की एक रिपोर्ट के अनुसार, जब जनादेश हटा लिया गया था, तो कैलिफोर्निया का सात दिन का औसत प्रति 1,00,000 लोगों पर 8.2 मामले थे। शुक्रवार को, इस क्षेत्र ने एक सप्ताह पहले की तुलना में अपने नए मामले की दर में 80 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia