कोरोना वायरस के मामले में स्पेन से भी आगे निकला ब्राजील, लॉकडाउन से अर्थव्यवस्था में रिकॉर्ड गिरावट

ब्राजील की पहले से ही नाजुक अर्थव्यवस्था पर लॉकडाउन का बहुत बुरा असर पड़ा है। अनुमान है कि देश की अर्थव्यवस्था 4.7 फीसदी तक सिकुड़ जाएगी। ऐसी गिरावट ब्राजील में पिछले 100 सालों में भी नहीं देखी गई। देश के राष्ट्रपति बोल्सोनारो शुरू से लॉकडाउन के खिलाफ हैं, जिससे कई राज्यों से तनातनी की स्थिति है।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

DW

ब्राजील में अकेले 13 मई के दिन ही कोरोना वायरस के 11,385 नए मामले दर्ज होने का रिकॉर्ड बन गया। इसी के साथ यहां कोरोना वायरस के संक्रमण के मामलों की संख्या 188,974 पहुंच गई, जिससे कुल संक्रमण के लिहाज से देश स्पेन से भी आगे निकल गया। कोरोना महामारी के कारण ब्राजील की अर्थव्यवस्था इतने बुरे हाल में आ गई है, जैसा साल 1900 के बाद कभी नहीं हुआ।

ब्राजील की पहले से ही नाजुक अर्थव्यवस्था पर लॉकडाउन का बहुत बुरा असर पड़ा है। यहां अधिकतर राज्यों की सरकारों और स्थानीय प्रशासन ने नागरिकों को घर पर ही रहने और कारोबार और काम-धंधे बंद करने के आदेश दे दिए थे। ब्राजील के राष्ट्रपति बोल्सोनारो और राज्यों के गवर्नरों के बीच ऐसे आदेशों को लेकर कई हफ्तों से मतभेद चलते आए हैं। बोल्सोनारो का मानना रहा है कि कोरोना की बीमारी के कारण जितना नुकसान नहीं होगा, उससे ज्यादा लोगों का काम धंधा बंद होने से होगा।

ब्राजील के वित्त मंत्रालय ने अनुमान लगाया है कि देश की अर्थव्यवस्था 2020 में 4.7 फीसदी सिकुड़ जाएगी। सालाना इस स्तर की कमी ब्राजील में पिछले 100 सालों में भी देखने को नहीं मिली थी। इसके अलावा मंत्रालय की गणना यह भी दिखाती है कि क्वारंटीन के हर एक हफ्ते के लिए देश की अर्थव्यवस्था को करीब 3.40 अरब डॉलर की चपत लग रही है। बोल्सोनारो ने कहा, "ऐसी नौबत आ जाएगी कि भूखे लोग सड़क पर उतर जाएंगे।"

राष्ट्रपति बोल्सोनारो ने इस हफ्ते देश में जिम और हेयर सैलून को भी आवश्यक सेवाओं की सूची में डाल कर खोलने के आदेश दे दिए, जिसके कारण राज्य सरकारों से उनकी तनातनी और बढ़ गई है। इस आदेश को ना मानने वाली स्थानीय सरकारों के खिलाफ उन्होंने कानूनी कार्रवाई करने की धमकी भी दी है।

ब्राजील के सबसे अधिक आबादी वाले राज्य साओ पाउलो ने बोल्सोनारो के नए आदेशों को नहीं मानने की बात कही है। इसी राज्य में कोरोना वायरस के सबसे अधिक मामले भी सामने आए हैं। साओ पाउलो राज्य के गवर्नर ने इसका एलान करते हुए कहा कि देश के कम से कम 10 राज्यों के गवर्नरों का भी ऐसा ही मानना है और वे अभी कारोबार-धंधों को खोले जाने के खिलाफ हैं। ब्राजील से ज्यादा संक्रमण जिन पांच देशों में दर्ज हुए हैं वे हैं, अमेरिका, स्पेन, रूस, ब्रिटेन और इटली. ब्राजील में अब तक कोरोना वायरस ने कम से कम 13,149 लोगों की जान ले ली है।

लोकप्रिय
next