एम्स में इलाज करा रहे लालू यादव की हालत में सुधार नहीं, खराब स्वास्थ्य के आधार पर मिल सकती है जमानत

लालू यादव दिल्ली स्थित एम्स के ओल्ड वार्ड के कमरा संख्य 101 में भर्ती हैं। वे बिरसा मुंडा जेल में बंद थे जहां उनकी तबियत बिगड़ने पर उन्हें पहले रांची स्थित रिम्स और फिर बाद में एम्स लाया गया था।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

विश्वदीपक

सूत्रों से पता चला है कि आरेजडी प्रमुख लालू यादव की तबियत ज्यादा बिगड़ी तो नहीं है लेकिन उनकी तबियत में कोई सुधार भी नहीं हुआ है।

वे इलाज के लिए दिल्ली स्थित एम्स के ओल्ड वार्ड के कमरा संख्य 101 में भर्ती हैं। वे रांची के बिरसा मुंडा जेल में बंद थे जहां उनकी तबियत बिगड़ने पर उन्हें पहले रांची स्थित रिम्स और फिर बाद में एम्स लाया गया था।

आरजेडी के खास सूत्र ने नवजीवन को बताया, “उनकी हालत फिलहाल खतरे में नहीं है लेकिन हमें उनकी बहुत चिंता है।”

सूत्रों ने बताया कि वे कई बीमारी से जूझ रहे हैं जैसे उच्च रक्तचाप, मधुमेह लेकिन पेट के संक्रमण ने गंभीर समस्या पैदा कर दी है। इसकी वजह से वे लगातार उच्च ज्वर से पीड़ित हैं।

रांची हाई कोर्ट ने एम्स प्रशासन से उनके स्वास्थ्य पर रिपोर्ट देने को कहा है।

आरजेडी नेताओं को उम्मीद है कि खराब स्वास्थ्य के आधार पर उन्हें जमानत मिल सकती है और इस वजह से न्यायपालिका थोड़ी उदारता दिखा सकती है।

बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने गुरुवार को एम्स में उनसे मुलाकात की थी। मुलाकात के बाद उन्होंने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी थी और उनके जल्द स्वस्थ होने की कामना की थी।

लालू से मुलाकात के बाद तेजस्वी ने ट्वीट किया, "दिल्ली एम्स में कुछ क्षणों के लिए अपने पिता से मिला। उनके स्वास्थ्य को लेकर चिंतित हूं। उनकी हालत में कुछ ज्यादा सुधार नहीं हुआ है। उम्र के इस पड़ाव पर उन्हें निरंतर देखभाल की आवश्यकता है।"

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

लोकप्रिय