उत्तर प्रदेश में तेजी से पैर पसार रहा कोरोना वायरस, मरीजों की संख्या 7170 हुई, अब तक 197 मौतें  

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। राज्य में अब तक 7170 कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। जबकि इस वायरस से अब तक 197 लोगों की जान जा चुकी है। राज्य के आगरा, लखनऊ, मेरठ, कानपुर और नोएडा सर्वाधिक संक्रमित जिले हैं।

फोटो : Getty Images
फोटो : Getty Images
user

आईएएनएस

उत्तर प्रदेश में कोरोनावायरस का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है। इस खतरनाक वायरस ने अब तक 197 लोगों की जान ले ली है। राज्य में संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर अब 7,170 हो गई। अब तक 4215 संक्रमित लोग स्वस्थ हो चुके हैं।

संक्रामक रोग विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ़ विकासेंदु अग्रवाल ने बताया कि आगरा में 874, मेरठ में 403, नोएडा में 373, लखनऊ में 349, कानपुर में 339, गजियाबाद में 266, सहारनपुर में 240, फिरोजाबाद में 238, मुरादाबाद में 201, रामपुर में 172, वाराणसी में 171, जौनपुर में 156, बस्ती में 155, बाराबंकी में 144, हापुड़ में 138, अलीगढ़ में 130, बुलंदशहर में 111, गाजीपुर में 98, सिद्धार्थ नगर में 97, अयोध्या में 94, अमेठी में 89, प्रयागराज में 87, बिजनौर में 85, संभल में 184, बहराइच में 78, संत कबीर नगर में 78, मथुरा में 75, प्रतापगढ़ में 75, रायबरेली में 72, देवरिया में 71, गोरखपुर में 71, आजमगढ़ में 69, सुल्तानपुर में 68 और लखीमपुर खीरी में 64 लोग कोरोनावायरस की चपेट में आ चुके हैं।

इसी तरह मुजफ्फर नगर में 61, गोंडा में 60, अमरोहा में 59, बरेली में 52, अंबेडकरनगर में 51, इटावा में 49, कौशांबी में 47, फतेहपुर में 46, महराजगंज में 46, पीलीभीत में 44, हरदोई में 43, जालौन में 43, शामली में 43, कन्नौज में 42, सीतापुर में 40, बदायूं में 38, बलरामपुर में 37, भदोही में 37, झांसी में 37, बलिया में 36, चित्रकूट में 33, मैनपुरी में 33, मिर्जापुर में 32, बागपत में 30, उन्नाव में 30, औरैया में 29, श्रावस्ती में 29, फरु खाबाद में 28, बांदा में23, एटा में 23, हाथरस में 22, मऊ में 22, चंदौली में 21, कानपुर देहात में 19, शाहजहांपुर में 19, कासगंज में 15, महोबा में 11, कुशीनगर में 10, सोनभद्र में 7, हमीरपुर में 6 और ललितपुर में 2 लोग कोरोना पॉजटिव पाए गए हैं।

प्रमुख सचिव (स्वास्थ्य) अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में 11 मई से ही एक्टिव केस कम हो रहे हैं और ठीक होने वाले मरीजों की संख्या बढ़ने का क्रम जारी है। उन्होंने बताया कि बुधवार को 7923 सैंपलों की टेस्टिंग की गई और 649 पूल टेस्ट किए गए। अब तक 2048 लोगों को आइसोलेशन में और 8454 लोगों को क्वारंटीन में रखा गया है।

प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण के सर्विलांस में 94 हजार 856 टीम लगी रहीं। इन टीमों ने 12 हजार 625 इलाकों में 74 लाख 47 हजार 339 घरों का सर्वेक्षण किया। साथ ही 3 करोड़ 74 लाख 46 हजार 942 लोगों की जांच भी हुई। उन्होंने बताया कि प्रदेश में काफी संख्या में कामगार व श्रमिकों की वापसी हुई है। सभी को होम क्वारंटीन में 21 दिनों तक रहने के लिए कहा गया है। होम क्वारंटीन में रहने वालों की जांच के लिए आशा वर्करों को भी तैनात किया गया है।

प्रसाद ने बताया कि आशा वर्करों द्वारा अब तक 10 लाख 8 हजार 531 लोगों की जांच गई है। जांच के दौरान 959 लोगों में कोरोना के लक्षण मिले, जिनका उपचार किया जा रहा है। इन 959 लोगों के सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा गया, जिनमें से 297 सैंपलों की रिपोर्ट मिली। रिपोर्ट के आधार पर 88 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई।

प्रसाद ने बताया कि आरोग्य सेतु एप से स्वास्थ्य विभाग के कंट्रोल रूम द्वारा 38 हजार 54 फोन कॉल किए गए। बातचीत से प्राप्त जानकारी के आधार पर 104 लोगों को संक्रमित पाया गया, जबकि 49 लोग उपचार के बार स्वस्थ्य होकर घर चले गए हैं। हालांकि अभी भी 1248 लोगों को क्वारंटीन किया गया है।

लोकप्रिय
next