कोरोना से जंग में पहली पंक्ति में खड़े डॉक्टरों से दिल्ली में मारपीट, वायरस फैलाने का आरोप लगाकर किया हमला

सफदरजंग अस्पताल की दो महिला रेजीडेंट डॉक्टरों पर कोविड-19 संक्रमण फैलाने का आरोप लगाते हुए दिल्ली के गौतम नगर इलाके में एक व्यक्ति ने उन पर कथित रूप से हमला किया।डॉक्टरों ने हौज खास पुलिस में शिकायत दर्ज कराई जिसके बाद पुलिस ने उस व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

देश भर में कोराना वायरस का कहर जारी है। कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। इस जानलेवा वायरस देश के डॉक्टर्स और मेडिकल स्टाफ अपनी जान जोखिम में डालकर लगातार लोगों का इलाज कर रहे हैं। लेकिन इन्ही डॉक्टरों के साथ कुछ लोग सही व्यवहार नहीं कर रहे हैं। धरती के भगवान कहे जाने वाले डॉक्टर के साथ कोविड-19 संक्रमण फैलाने का आरोप लगाते हुए दिल्ली के गौतम नगर इलाके में उन पर कथित रूप से हमला हुआ है। दोनों महिला रेजीडेंट डॉक्टर सफदरजंग अस्पताल तैनात है।

इस घटना के बाद डॉक्टरों की ओर से हौज खास पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई। जिसके बाद पुलिस ने उस व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस उपायुक्त (दक्षिण) अतुल कुमार ठाकुर ने बताया कि मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

खबरों के मुताबिक, गौतम नगर इलाके की एक सोसाइटी में रहने वाली दो डॉक्टरों की ड्यूटी सफ़दरजंग अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में है। दोनों डॉक्टर बुधवार रात अपने घर से फल खरीदने के लिए बाहर निकली थीं। तभी पड़ोसी उन पर कोरोना वायरस फैलाने का आरोप लगाते हुए चिल्लाने लगा। पड़ोसी ने कहा कि तुम दोनों पूरे इलाके में कोरोना फैला रही हो। जब दोनों महिला डॉक्टरों ने पड़ोसी का विरोध किया तो उसने मारपीट कर दी।

इससे पहले दिल्‍ली के कई इलाकों से किराये पर रह रहे ऐसे डॉक्‍टर्स से जबरन मकान खाली करवाने की रिपोर्ट्स भी सामने आई थी, जो कोरोना संक्रमित लोगों के इलाज में जुटे हैं। ऐसी रिपोर्ट के बीच मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मकान मालिकों को चेतावनी देते हुए उनके खिलाफ एक्‍शन लेने की बात भी कही थी।

देश की राजधानी में लगातार कोरोना वायरस के मामले बढ़ रहे हैं। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया कि राज्य में अब तक कोरोना वायरस के 669 मामले सामने आ चुके हैं। इसमें 426 केस निजामुद्दीन मरकज से जुड़े हैं।

लोकप्रिय