मल्लिकार्जुन खड़गे बोले- मेरे लिए ये भावुक क्षण, एक मजदूर के बेटे और सामान्य कार्यकर्ता को बनाया गया कांग्रेस अध्यक्ष

आज एक मजदूर का बेटा, एक सामान्य कार्यकर्ता को भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का अध्यक्ष चुनकर यह सम्मान देने के लिए आप सबका हार्दिक आभार और धन्यवाद देता हूं। ये कांग्रेस के नवनिर्वाचित अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस के नवनिर्वाचित अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा, “आज मेरे लिए बहुत ही भावुक क्षण है। आज एक मजदूर का बेटा, एक सामान्य कार्यकर्ता को भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का अध्यक्ष चुनकर यह सम्मान देने के लिए आप सबका हार्दिक आभार और धन्यवाद देता हूं। जो यात्रा मैंने 1969 में ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के रूप में शुरू की थी। उसे आपने आज इस मुकाम पर मझे पहुंचाया है। जिस महान राजनीतिक दल का नेतृत्व महात्मा गांधी जी, पंडित जवाहरलाल नेहरू जी, सुभाष चंद्रबोस जी, सरदार पटेल जी, मौलाना आजाद जी, बाबू जगजीवन राम जी, इंदिरा गांधी जी और राजीव गांधी जी ने किया हो उस जिम्मेदारी को संभालना मेरे लिए सौभाग्य और गौरव की बात है।”

उन्होंने आगे कहा कि आधुनिक भारत के निर्माण में कांग्रेस पार्टी का बेमिसाल योगदान है। बाबा साहेब डा. अंबेडकर जी ने इस देश के संविधान के निर्माण के लिए योगदान दिया है, इस देश के संविधान की रक्षा के लिए हमको लड़ना होगा


कांग्रेस के नए अध्यक्ष ने कहा, “डॉ.अंबेडकर का इस देश के संविधान को बनाने में बेमिसाल योगदान है। मैं समझता हूं कि इसकी रक्षा करना हम सभी का फर्ज है। इसके लिए लड़ने के लिए हम सभी को तैयार रहना चाहिए। कांग्रेस के सभी पुराने अध्यक्षों को याद करते हुए। मैं आप सबको भरोसा दिलाता हूं कि अपनी मेहनत से अपने अनुभव से जो कुछ भी संभव होगा, मैं करूंगा। लेकिन आप सबको भी पूरी ताकत और लगन के साथ लड़ना होगा। यही मेरी अपील है।”

खड़गे ने कहा, “आज इस मौके पर कांग्रेस की करोड़ों कार्यकर्ताओं की तरफ से सोनीया गांधी जी के बहुमूल्य योगदान के प्रति हृदय से आदर, सम्मान और आभार व्यक्त करना चाहता हूं। मुझे याद है कि 15 जनवरी 1998 के दिन जब बेंगलुरु के नेशनल हाई स्कूल मैदान में आपने अपनी पहली जनसभा में कहा था कि मैं कर्नाटक से राजनीति की दीक्षा ले रही हूं। तब से आपने रात-दिन नि:स्वार्थ मेहनत कर कांग्रेस को संभाला है। सोनिया जी हमेशा सच्चाई की राह पर चलती रहीं। सिर्फ सत्ता के लिए।राजनीति करने वालों के इस दौर में त्याग की जो मिसाल उन्होंने कायम की है। उसका कोई दूसरा मिसाल मिलना मुश्किल है।”

उन्होंने आगे कहा कि उनके (सोनिया गांधीस जी) नेतृत्व में ही यूपीए की सरकार बनी तब आम लोगों के हित में एक से एक शानदार काम किए हुए। मनरेगा, खाद्य सुरक्षा अधिनियम, आरटीआई और भूमि अधिग्रहण कानून समेत कई कानून बनाए गए। जो सोनिया गांधी और डॉ.मनमोहन सिंह जी के नेतृत्व वाली सरकार की बहुत बड़ी उपलब्धि है।”


खड़गे ने आगे कहा, "उदयपुर के नवसंकल्प चिंतन शिविर में पार्टी को आगे लाने का जो ब्लूप्रिंट सोनिया गांधी के नेतृत्व में तैयार किया गया था, उसे लागू करने की जिम्मेदारी अब हम सब पर है। मैं जानता हूं कि यह दौर मुश्किल है। हम सब जानते हैं कि जिस तरह से लोकतंत्र की स्थापना कांग्रेस ने की थी उसे बदलने की कोशिश आज हो रही है। किसने सोचा होगा कि देश में ऐसी राजनीति का दौर भी आएगा, जिसमें झूठ का बोलबाला होगा और सत्ता में बैठे हुकमरान लोकतंत्र को कमजोर करने में जुटे होंगे।"

उन्होंने कहा, “मैं यह भी जानता हूं कि झूठ, फरेब और नफरत का यह तंत्र हम तोड़कर रहेंगे। कांग्रेस की विचारधारा, भारत के संविधान की विचारधारा है और करोड़ों देशवासी उसमें दिल से यकीन करते है। ऐसे बहुत से लोग कांग्रेस पार्टी के साथ फॉरमली जुड़े हुए नहीं हैं। लेकिन वह लोग लोकतंत्र को बचाना चाहते हैं। कांग्रेस अध्यक्ष के नाते मैं उनसे कहना चाहता हूं कि आइए हम साथ चलें। मैं उन्हें यकीन दिलाना हूं। यह देश सबके लिए है। सबकी भलाई इसी में है।”

खड़गे ने कहा, “कांग्रेस पार्टी 137 वर्षों से लोगों के जीवन का हिस्सा है। हमारे अच्छे काम और हमारे नेताओं के त्याग के बावजूद हमरे कुछ मतदाता हमसे रूठ गए हैं। मैं राहुल गांधी जी का आभार व्यक्त करता हूं जिन्होंने इस बात को समझा और हर मुश्किल को दरकिनार करते हुए ‘भारत जोड़ो यात्रा’ पर निकल पड़े। वो लोगों से मिल रहे हैं। उनसे सीधे संवाद कर रहे हैं। उनके दुख और दर्द को सुनकर रहे हैं। चाहे वह एनजीओ हों, पत्रकार हों, किसान और मजदूर हों, सभी से रास्ते पर मिलते हैं, उनसे पूछते हैं उनके साथ संवाद भी करते हैं। हमारे पार्टी के लिए यह बहुत बड़ी उपलब्धि है। कन्याकुमारी से कश्मीर तक की इस ‘भारत जोड़ो यात्रा’ में हर रोज लाखों जुड़ रहे हैं। देश में एक नई ऊर्जा पैदा हो रही है। इस ऊर्जा को हम व्यर्थ नहीं जाने देंगे।”

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia