दिल्ली: किंग्सवे पुलिस कैंप से रिहा हुए राहुल गांधी, 7 घंटे तक पुलिस ने हिरासत में रखा

कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के समर्थन और संसद में महंगाई जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों पर कोई चर्चा नहीं होने के मद्देनजर कांग्रेस सांसदों ने संसद भवन से राष्ट्रपति भवन तक विरोध मार्च निकाला। इस दौरान पुलिस ने उन्हें हिरासत में लिया।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने आज ईडी के सामने अपना बयान दर्ज कराया, इस दौरान समर्थन में पूरे देश में पार्टी के कार्यकर्ता और नेताओं ने शांतिपूर्ण प्रदर्शन किया। देश की राजधानी दिल्ली की सड़कों में भी पार्टी नेताओं का हुजूम देखने को मिला। इसी कड़ी में राहुल गांधी समेत कांग्रेस सांसदों ने संसद से राष्ट्रपति भवन तक मार्च करने का फैसला लिया, लेकिन इस दौरान पुलिस ने सभी को हिरासत में ले लिया।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी को उनकी पार्टी के संसद से राष्ट्रपति भवन तक मार्च के दौरान हिरासत में लिए जाने के करीब 7 घंटे बाद दिल्ली पुलिस ने रिहा कर दिया। पुलिस उपायुक्त (नई दिल्ली) अमृता गुगोलथ ने कांग्रेस पार्टी नेताओं की नजरबंदी के बारे में एक सवाल के जवाब में कहा, "उन्हें रिहा कर दिया गया है।"

कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के समर्थन और संसद में महंगाई जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों पर कोई चर्चा नहीं होने के मद्देनजर कांग्रेस सांसदों ने संसद भवन से राष्ट्रपति भवन तक विरोध मार्च निकाला। हालांकि, जैसे ही सांसद राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को ज्ञापन देने के लिए आगे बढ़े, दिल्ली पुलिस ने उन्हें विजय चौक के पास बीच में ही रोक दिया।

इसके बाद राहुल गांधी समेत कांग्रेस के सांसद विजय चौक के सामने धरने पर बैठ गए। प्रदर्शनकारी कांग्रेस नेताओं ने तख्तियां लिए हुए जांच एजेंसी ईडी और केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।

फोटो: विपिन
फोटो: विपिन

पैरा मिल्रिटी और रैपिड एक्शन फोर्स सहित भारी पुलिस बल तैनात था। पुलिस ने शुरूआत में महिला सांसदों समेत अन्य नेताओं को हिरासत में लेना शुरू किया और आखिर में दीपेंद्र सिंह हुड्डा और राहुल गांधी को वहीं छोड़ दिया गया।

दिल्ली पुलिस के एक अधिकारी से बात करते हुए राहुल गांधी ने कहा, "समस्या क्या है? हम राष्ट्रपति से मिलने और ज्ञापन सौंपने के लिए वहां जाना चाहते हैं। हमें अनुमति क्यों नहीं है?"

विजय चौक के पास से विरोध करने वाले हर नेता को हिरासत में लेने के बाद, राहुल गांधी को हिरासत में लिया गया और वहां से अन्य सांसदों के साथ एक बस में नई पुलिस लाइन किंग्सवे पुलिस कैंप ले जाया गया। विजय चौक के अलावा 24 अकबर रोड स्थित कांग्रेस पार्टी मुख्यालय के बाहर से भी सैकड़ों पार्टी कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया गया।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia