राजस्थान के बाड़मेर में बड़ा हादसा, पंडाल गिरने से 14 लोगों की दर्दनाक मौत, 24 से ज्यादा घायल

बाड़मेर में हादसे के बाद मौके पर कोहराम मच गया। मौके पर पहुची पुलिस और प्रशासन की टीम ने घायलों को नाहटा अस्पताल में भर्ती कराया है। कई घायलों की हालत गंभीर बनी हुई है। ऐसे में मृतकों की संख्या बढ़ सकती है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

राजस्थान के बाड़मेर में पंडाल गिरने से 14 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई है और 24 से ज्यादा लोग घायल हो गए हैं। बाड़मेर के बालोतरा के जसोल कस्बे में रामकथा के दौरान यह हादसा हुआ है। रामकथा के दौरान तेज आंधी के साथ बारिश हुई और पंडाल गिर गया। बताया जा रहा है कि पंडाल के नीचे दम घुटने और करंट लगने से इतने लोगों की जान चली गई। ज्यादातर लोगों की मौत करंट लगने से हुई है। बताया जा रहा है कि जिस वक्त पंडाल गिरा उस वक्त पंडाल में करीब 350 लोग मौजूद थे।

हादसे के बाद मौके पर कोहराम मच गया। मौके पर पहुची पुलिस और प्रशासन की टीम ने घायलों को नाहटा अस्पताल में भर्ती कराया है। कई घायलों की हालत गंभीर बनी हुई है। ऐसे में मृतकों की संख्या बढ़ सकती है।

हादसे के बाद पूरे इलाके में शोक की लहर है। वहीं अस्पताल में अफरा-तफरी का माहौल है। अस्पताल में भारी भीड़ जमा हो गई है। लोग अपने परिजनों को लेकर अस्पताल में इधर-उधर भाकते दिखे। वहीं इस हादसे पर राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दुख जताया है। साथ ही प्रशासन को घायलों की हर संभव मदद करने के निर्देश दिए हैं।

राजस्थान के कोटा से सांसद और लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने भी बाड़मेर हादसे पर दुख जताया है। उन्होंन ट्वीट कर कहा, “राजस्थान के बाड़मेर में राम कथा सुन रहे लोगों पर तेज आंधी के कारण पांडाल गिरने से लोगों की मौत पर अत्यंत द्रवित हूं और शोक संतृप्त परिवारों के साथ अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं, तथा घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं।”

Published: 23 Jun 2019, 6:56 PM
लोकप्रिय