दिल्ली के उदयपुर हाऊस में गरीब छात्रों के लिए हॉस्टल बनाएगी राजस्थान की गहलोत सरकार

राजस्थान सरकार राज्य के गरीब छात्रों के लिए दिल्ली में हॉस्टल बनाएगी। यह हॉस्टल दिल्ली में उदयपुर हाउस में बनाया जाएगा जिसमें छात्रों को कई तरह की शैक्षिक सुविधाएं भी उपलब्ध कराई जाएंगी। लंबी कानूनी लड़ाई के बाद उदयपुर हाउस राजस्थान को वापस मिला है।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

राजस्थान सरकार गरीब छात्रों के लिए दिल्ली में हॉस्टल बनाएगी ताकि उन्हें प्रतियोगितात्मक परीक्षाओं में हिस्सा लेने में आसानी हो। यह हॉस्टल दिल्ली में उदयपुर हाउस में बनाया जाएगा जिसमें 250 कमरे होंगे। इस हॉस्टल में छात्रों को कई तरह की शैक्षिक सुविधाएं भी उपलब्ध कराई जाएंगी।

राजस्थान सरकार ने दिल्ली के उदयपुर हाऊस में गरीब छात्रों के लिए नेहरू यूथ ट्रांजिट हॉस्टल एंड फेसिलिटेशन सेंटर बनाने का ऐलान किया है। इस पर करीब 330 करोड़ का खर्च आएगा और छात्रों के लिए 250 कमरों का हॉस्टल और सुविधा केंद्र बनाया जाएगा। इस हॉस्टल को राजस्थान के उन गरीब छात्रों को मुहैया कराया जाएगा जो दिल्ली में रहकर प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करते हैं, लेकिन महंगे किराए के कारण उन्हें काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

इस हॉस्टल में करीब 500 छात्र रह सकेंगे। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस योजना को मंजूरी दे दी है। हॉस्टल में रहने पर छात्रो का किराए की मद में जो पैसा बचेगा उससे वे अपने लिए पुस्तकें और अन्य पठन सामग्री का इंतजाम कर सकते हैं। मुख्यमंत्री ने राज्य के 2022-23 के बजट में इस हॉस्टल के निर्माण की घोषणा की है।

ध्यान रहे कि उदयपुर हाउस करीब 12 हजार वर्ग मीटर में फैला हुआ है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ऐलान किया है कि कभी अपने शानदार इंटीरियर के लिए मशहूर उदयपुर हाऊस को रिनवोट किया जाएगी ताकि उसकी पुरानी शानौ शौकत वापस आ सके। ध्यान रहे कि उदयपुर हाउस उदयपुर राजघराने की संपत्ति हुआ करता था लेकिन भारतीय संघ में रजवाड़ों के विलय के साथ ही उदयपुर हाउस भी सरकारी संपत्ति बन गया और राजस्थान सरकार की देखरेख में आ गया। पहले उदयुपर हाउस दिल्ली सरकार के अधीन था लेकिन गहलोत सरकार ने लंबी कानूनी लड़ाई के बाद इसे राजस्थान के पक्ष में कराया।

(जयपुर से प्रकाश भंडारी के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia