तेजस्वी यादव का नीतीश कुमार पर तंज, बोले- दिखाने को एक काम नहीं, पर गिनाने को हजार बहाने हैं

तेजस्वी यादव ने कहा 76 घोटालों की सरताज सरकार में भ्रष्टाचार, अफसरशाही, बेरोजगारी, अव्यवस्था, बदहाली और जनता की समस्याओं के प्रति बेपरवाही आसमान पर है। दिखाने को एक काम नहीं है पर गिनाने को हज़ार बहाने है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने एक बार फिर बिहार के सीएम नीतीश कुमार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि दिखाने को एक काम नहीं, पर गिनाने को हजार बहाने हैं। उन्होंने ट्वीट किया, "76 घोटालों की सरताज सरकार में भ्रष्टाचार, अफसरशाही, बेरोजगारी, अव्यवस्था, बदहाली और जनता की समस्याओं के प्रति बेपरवाही आसमान पर है। दिखाने को एक काम नहीं है पर गिनाने को हज़ार बहाने है। नीतीश जी का बस चले तो पिछली सरकारों पर क्या, पौराणिक पात्रों पर भी अपनी शिथिलता का दोष मढ़ दें!"

बुधवार को तेजस्वी यादव ने किया था बेरोजगारी रैली की घोषणा


बुधवार को तेजस्वी यादव ने घोषणा की है कि वह जल्द ही पटना में एक बेरोजगारी रैली का आयोजन करेंगे। उनका यह बयान मंगलवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सामने बेरोजगार युवकों के विरोध प्रदर्शन के बाद आया। उन्होंने कहा था "जब बेरोजगार युवाओं ने 2020 के विधानसभा चुनाव में नीतीश कुमार और एनडीए के 19 लाख नौकरियों के वादे को याद दिलाया, तो उन्होंने अपना आपा खो दिया और उनके साथ अहंकारी बर्ताव किया। नीतीश कुमार बिहार के युवाओं को नौकरी देने में विफल रहे। जब युवाओं ने यह याद दिलाया, तो उनका मजाक उड़ाया गया। यह बेरोजगार युवाओं का अपमान है।"

तेजस्वी ने कहा था, "हमने बेरोजगार युवाओं की आवाज बनने का फैसला किया है और बेरोजगारी के खिलाफ देश की सबसे बड़ी रैली का आयोजन करेंगे।" तेजस्वी ने कहा था, "मुख्यमंत्री बेरोजगार युवकों के सामने आने से बच रहे हैं। वह सड़क यात्रा से बच रहे हैं, क्योंकि उन्हें जनता का सामना करना पड़ेगा। नीतीश कुमार एक कमजोर मुख्यमंत्री हैं, जो राजनीतिक मजबूरी के रूप में चुनावी रैलियों में जाते थे।"

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia