सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में दिल्ली पुलिस को बड़ी कामयाबी, गोली चलाने वाले दो मुख्य शूटर गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड मामले में सोमवार को एक बड़ी सफलता हासिल करते हुए दो मुख्य शूटरों और उनके एक सहयोगी को गिरफ्तार किया है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड मामले में सोमवार को एक बड़ी सफलता हासिल करते हुए दो मुख्य शूटरों और उनके एक सहयोगी को गिरफ्तार किया है।

दिल्ली पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, "दो शूटर में से एक मॉड्यूल का प्रमुख है।" आरोपियों की पहचान हरियाणा के सोनीपत निवासी प्रियव्रत उर्फ फौजी (26) और कशिश उर्फ कुलदीप (24) के रूप में हुई है।

वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि गैंगस्टरों के 'बोलेरो मॉड्यूल' के मुखिया रहे आरोपी प्रियव्रत ने निशानेबाजों की टीम का नेतृत्व किया और घटना के वक्त गोल्डी बराड़ के सीधे संपर्क में था।

वह हत्या का मुख्य शूटर था और घटना से पहले पेट्रोल पंप फतेहगढ़ के सीसीटीवी फुटेज में देखा जा सकता है। आरोपी प्रियव्रत पहले दो हत्या के मामलों में शामिल पाया गया था और 2015 में सोनीपत के एक हत्या के मामले में गिरफ्तार किया गया था और 2021 में सोनीपत के एक अन्य हत्या मामले में वांछित था।


दूसरा आरोपी शूटर कुलदीप भी घटना से पहले पेट्रोल पंप फतेहगढ़ के सीसीटीवी फुटेज में देखा गया था। गिरफ्तार किए गए तीसरे व्यक्ति की पहचान पंजाब के भटिंडा निवासी केशव कुमार (29) के रूप में हुई है।

अधिकारी ने कहा, "आरोपी केशव ने एक सहायक के रूप में काम किया और एक ऑल्टो कार में गोलीबारी के ठीक बाद निशानेबाजों को गंतव्य तक पहुंचाने में मदद किया।"


आरोपी केशव घटना के दिन, टोही के दौरान और पिछले प्रयासों के दौरान भी मनसा तक निशानेबाजों के साथ था। पुलिस ने दोनों आरोपित शूटरों को गिरफ्तार करने के अलावा भारी मात्रा में हथियार और विस्फोटक भी बरामद किया है।

वर्तमान समय के सबसे प्रसिद्ध पंजाबी भाषा के गायकों में से एक 28 वर्षीय मूसेवाला की 29 मई को उस समय गोली मारकर हत्या कर दी गई थी, जब वह थार से कहीं जा रहे थे।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia