यूपी पंचायत चुनाव में दिखेगा सरकार द्वारा किसानों को प्रताड़ित करने का असर? BKU ने किसानों से की ये अपील

यूपी पंचायत चुनाव को लेकर बीकेयू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा, "मेरी भी लोगों से यही अपील है कि वे बीजेपी को वोट न दे। यह स्थानीय स्तर पर होने वाला चुनाव है और लोग किसी भी व्यक्ति को चुनने के लिए स्वतंत्र हैं।"

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

आईएएनएस

भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) ने एक बयान जारी कर लोगों को गुरुवार से शुरू होने वाले पंचायत चुनावों में बीजेपी के अलावा किसी भी उम्मीदवार को चुनने की बात कही है। बीकेयू के महासचिव द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है, "संयुक्त किसान मोर्चा (एकजुट किसान मोर्चा) केंद्र सरकार की किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ लड़ रहा है। हम उन राज्यों में जा रहे हैं, जहां विधानसभा चुनाव होने हैं और लोगों से बीजेपी को वोट न देने के लिए कह रहे हैं।

उत्तर प्रदेश में आयोजित हो रहे पंचायत चुनावों के बारे में हम यह बताना चाहेंगे कि बीकेयू एक गैर-राजनीतिक संगठन है। हम न ही राजनीति में लिप्त हैं और न ही लोगों से किसी पार्टी विशेष को वोट देने के लिए कह रहे हैं। हम बस इतना ही चाहते हैं कि लोग बीजेपी समर्थित उम्मीदवारों को छोड़कर किसी को भी वोट दें।"

बीकेयू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत कहते हैं, "मेरी भी लोगों से यही अपील है कि वे बीजेपी को वोट न दे। यह स्थानीय स्तर पर होने वाला चुनाव है और लोग किसी भी व्यक्ति को चुनने के लिए स्वतंत्र हैं।"

संयुक्ता किसान मोर्चा के एक वरिष्ठ नेता गुरनाम सिंह चादुनी ने कहा, "उत्तर प्रदेश में होने जा रहे पंचायत चुनावों पर चर्चा करने के लिए अभी तक कोई एजेंडा मोर्चा द्वारा प्राप्त नहीं हुआ है। हमारा रुख स्पष्ट है। चुनाव में बीजेपी का विरोध किया जाएगा। उत्तर प्रदेश से किसान नेताओं द्वारा पश्चिम बंगाल में बीजेपी के खिलाफ प्रचार किया जा रहा है। उन्हें ऐसा उप्र में भी करना चाहिए।"

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय