समाजवादी पार्टी के विधायक दल की बैठक में शामिल नहीं हुए आजम खान, शिवपाल भी रहे नदारद

आजम और शिवपाल के बैठक में नहीं आने सेनाराजगी की चर्चा शुरू हो गई है। कहा जा रहा है कि दोनों वरिष्ठ नेताओं का बैठक में शामिल नहीं होना इस बात का स्पष्ट संकेत है कि सपा के भीतर दरार गहरी होती जा रही है और वरिष्ठ और युवा नेताओं के बीच स्पष्ट विभाजन आ रहा है।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

हाल ही में करीब दो साल से भी ज्यादा समय के बाद जेल से रिहा हुए समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ विधायक मोहम्मद आजम खान और उनके बेटे अब्दुल्ला आजम सोमवार से शुरू हो रहे उत्तर प्रदेश विधानसभा के बजट सत्र से पहले रविवार को हुई समाजवादी पार्टी विधायक दल की बैठक में शामिल नहीं हुए।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की मौजूदगी में हुई इस बैठक से उनके चाचा शिवपाल सिंह यादव भी नदारद रहे। मिली जानकारी के अनुसार आजम खान और उनके बेटे अब्दुल्ला रामपुर में थे, जबकि शिवपाल यादव लखनऊ में ही थे, लेकिन फिर भी वह पार्टी की बैठक में शामिल नहीं हुए।


आजम खान के जेल से बाहर आने के बाद पार्टी की अहम बैठक में शामिल नहीं होने पर पार्टी से उनकी नाराजगी की चर्चाएं शुरू हो गई हैं। कहा जा रहा है कि दोनों वरिष्ठ नेताओं का बैठक में शामिल नहीं होना इस बात का स्पष्ट संकेत है कि समाजवादी पार्टी के भीतर दरार दिन-ब-दिन गहरी होती जा रही है और वरिष्ठों और युवा नेताओं के बीच एक स्पष्ट विभाजन दिखाई दे रहा है।

इस बीच, समाजवादी पार्टी के विधायक रविदास मेहरोत्रा ने दोनों नेताओं की नाराजगी और पार्टी में दरार की अटकलों को खारिज करने की कोशिश करते हुए कहा कि आजम खान और उनके बेटे विधानसभा सत्र में भाग लेंगे। उन्होंने कहा कि वरिष्ठ नेता स्वास्थ्य कारणों से रविवार को बैठक में शामिल नहीं हुए थे।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia