रेप मामले में राम रहीम दोषी करार, समर्थकों ने की हिंसा

2002 के यौन शोषण मामले में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को सीबीआई के विशेष कोर्ट ने दोषी करार दिया है। फैसले आने के बाद कई राज्यों में राम रहीम के समर्थक हिंसक हो गए।

फोटो : PTI
फोटो : PTI
user

नवजीवन डेस्क

2002 के यौन शोषण मामले में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को सीबीआई के विशेष कोर्ट ने दोषी करार दिया है। इस मामले में राम रहीम को 28 अगस्त को सजा सुनाई जाएगी। राम रहीम के खिलाफ फैसले आने के बाद कई राज्यों में उनके समर्थक हिंसक हो गए। सबसे ज्यादा हिंसा की घटना पंचकुला में देखने को मिली।

फैसले के खिलाफ चार राज्यों में डेरा समर्थक हिंसक हो गए हैं। समर्थक सड़कों पर उतरकर हिंसक प्रदर्शन कर रहे है। फैसले के बाद डेरा समर्थकों ने कई जगहों पर आगजनी की है। खबर है कि पंजाब के दो रेलवे स्टेशनों पर डेरा समर्थकों ने आगजनी की। कई पेट्रोल पंप को आग के हवाले कर दिया। हिंसक प्रदर्शन के दौरान 31 लोगों के मरने की खबर है, जबकि करीब 300 लोग घायल भी हुए है।

राम रहीम के समर्थकों ने मीडिया को निशाना बनाने के साथ-साथ चंडीगढ़-शिमला हाई-वे पर आम लोगों को भी निशाना बनाया। इस बीच राज्य में बिगड़ते हालात को लेकर हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कैबिनेट की आपात बैठक बुलाई।

दिल्ली में भी डेरा समर्थकों ने सड़कों पर जमकर उत्पात मचाया। आनंद विहार स्टेशन पर खड़ी रीवा एक्सप्रेस के दो बोगियों में आग लगा दी गई। गाजियाबाद के लोनी इलाके में राम रहीम समर्थकों ने डीटीसी की बस में आग लगा दी। पंजाब, हरियाणा, दिल्ली-एनसीआर में हिंसा के बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने कई जिलों में धारा 144 लगा दी है। इसके साथ उत्तर प्रदेश के हरियाणा से लगने वाले सभी बॉर्डर को भी सील कर दिया गया है।

फैसले के खिलाफ फैली हिंसा को लेकर पंजाब, हरियाणा और दिल्ली के मुख्यमंत्रियों ने शांति बनाए रखने की अपील की है।

डेरा प्रमुख के खिलाफ साल 2002 में गुरमीत राम रहीम पर साध्वी के यौन शोषण का आरोप लगा था। एक साध्वी ने राम रहीम पर यौन शौषण का आरोप लगाते हुए एक पत्र मीडिया, पंजाब-हरियाणा हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश और उस वक्त के पीएम अटल बिहारी वाजपेयी को भेजा था। इसके बाद हाई कोर्ट ने 24 सितंबर 2002 को सीबीआई को इस मामले की जांच का जिम्मा सौंपा था।

Published: 25 Aug 2017, 7:18 PM
लोकप्रिय