सिनेजीवन: समन के बाद NCB के सामने पेश हुईं अनन्या पांडे और आर्यन खान की न्यायिक हिरासत 30 अक्टूबर तक बढ़ी

ड्रग्स मामले में समन मिलने के बाद अभिनेत्री अनन्या पांडे एनसीबी ऑफिस पहुंच चुकी है। जहां उनसे पूछताछ हो रही है और शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान की न्यायिक हिरासत को 30 अक्टूबर तक के लिए बढ़ा दिया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

ड्रग्स केसः समन के बाद NCB अधिकारियों के सामने पेश हुईं अनन्या पांडे

ड्रग्स मामले में गुरुवार को बॉलीवुड एक्ट्रेस अनन्या पांडे के घर एनसीबी के अधिकारियों ने छापेमारी की। इस दौरान टीम ने एक्ट्रेस का फोन जब्त कर लिया और उन्हें 2 बजे एनसीबी ऑफिस पूछताछ के लिए बुलाया। वही, अब अनन्या पांडे अपने घर से एनसीबी के ऑफिस पहुंच चुकी हैं। जहां उनसे पूछताछ हो रही है। रेड के दौरान अन्नया पांडे के घर से फोन, लैपटॉप और इलेक्ट्रॉनिक उपकरण जब्त किए गए हैं। एनसीबी को मिली व्हाट्सएप चैट से सामने आया कि आर्यन खान और अनन्या पांडे के बीच बातचीत हुई थी। इसी को मद्देनजर रखते हुए एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वांखेडे अनन्या पांडे से पूछताछ करेंगे।

इसे भी पढ़ें- ड्रग्स केस: बॉम्बे हाईकोर्ट से भी आर्यन खान को नहीं मिली राहत, अब इस दिन होगी जमानत याचिका पर सुनवाई

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

आर्यन खान को नहीं मिली राहत, कोर्ट ने 30 अक्टूबर तक बढ़ाई न्यायिक हिरासत

ड्रग्स केस में फंसे शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को राहत नहीं मिली है। कोर्ट ने एक बार फिर उनकी न्यायिक हिरासत को 30 अक्टूबर के लिए बढ़ा दिया है। वहीं इससे पहले आर्यन खान को हाईकोर्ट से भी राहत नहीं मिली थी। बंबई उच्च न्यायालय ने गुरुवार को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) द्वारा गिरफ्तार आर्यन खान की जमानत याचिका पर सुनवाई 26 अक्टूबर को निर्धारित की है। यह मामला न्यायमूर्ति एन.डब्ल्यू. साम्ब्रे के समक्ष आया और आर्यन खान के वकील सतीश मानेशिंदे ने शुक्रवार या सोमवार को तत्काल सुनवाई की मांग की।

हालांकि, न्यायमूर्ति साम्ब्रे ने मामले को अगले मंगलवार को सुनने का फैसला किया है, जिसकी वजह से आर्यन खान को पांच दिन और हिरासत में बिताने पड़ सकते हैं। बॉलीवुड सुपरस्टार शाहरुख खान के बेटे, आर्यन खान ने बुधवार (20 अक्टूबर) को विशेष एनडीपीएस कोर्ट के एक फैसले को चुनौती दी है, जिसमें सह-आरोपी अरबाज मर्चेट और मुनमुन धमेचा के साथ उनकी जमानत याचिका खारिज कर दी गई है।

शाहरुख के जन्मदिन पर सूना रहेगा 'मन्नत', नहीं मनाई जाएगी दिवाली!

सुपरस्टार शाहरुख खान इस वक्त अपने आर्यन को लेकर काफी परेशान हैं और लगातार उनकी जमानत को लेकर मेहनत कर रहे हैं। लेकिन हाल ही में एक बार फिर से कोर्ट ने आर्यन खान की जमानत याचिका खारिज कर दिया है। इन सबके बीच खबर है कि इस बार मन्नत में दिवाली भी नहीं मनाई जाएगी। रिपोर्ट्स की मानें तो शाहरुख खान के करीबियों ने बताया है कि घर में सभी लोग काफी निराश हैं। इसके अलावा एक खबर सामने आ रही है और वो ये है कि शाहरुख खान का घर मन्नत इस बार उनके जन्मदिन के मौके पर सुनसान रहने वाला है। करीबियों का कहना है कि इस बार शाहरुख खान ने ये गुजारिश अपने फैंस से की है वो मन्नत के बाहर इकट्ठा ना हों। गौरतलब है कि शाहरुख खान का जन्मदिन 2 नवंबर को आ रहा है। सभी को पता है कि शाहरुख खान अपने जन्मदिन के मौके पर मन्नत के बाहर आते हैं और अपने फैंस से मुलाकात करते हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

एडिडास ने दीपिका पादुकोण के साथ की साझेदारी

एडिडास ने ग्लोबल सुपरस्टार और युथ आइकन, दीपिका पादुकोण का अपने ब्रांड में स्वागत किया है। दीपिका पादुकोण फिटनेस के प्रति उनकी समान प्रतिबद्धता पर एडिडास के साथ मिलकर काम करेंगी; जिसमें फिसिकल और इमोशनल दोनों शामिल है। स्पोर्ट्स उनके जीवन का एक अभिन्न अंग होने के नाते, दीपिका दुनिया भर में लाखों लोगों को प्रोत्साहित करते हुए ताकत का प्रतीक हैं। साथ में मिलकर वे एक शक्तिशाली तालमेल बनाएंगे क्योंकि दोनों समान मूल्यों को साझा करते हैं। 'इम्पॉसिबल इज़ नथिंग' के ब्रांड के रवैये को आगे बढ़ाते हुए, यह साझेदारी सभी बाधाओं से उभरकर आगे बढ़ने की दिशा में काम करेगी जो वर्तमान के साथ-साथ आने वाली पीढ़ियों को भी प्रेरित करेगी। दीपिका द्वारा दुनिया भर में महिला एथलीट्स के साथ एडिडास के शक्तिशाली रोस्टर में शामिल होने के साथ, एडिडास प्रेरक व्यक्तित्वों के माध्यम से महिलाओं के लिए खेल को लोकतांत्रिक बनाने और विविधता लाने पर अपना ध्यान केंद्रित करता है।

पहली बार गोआ के फुटबॉल पर बनी फीचर फिल्म 'गोल गोआ'

पहली बार गोआ के फुटबॉल पर बनी फीचर फिल्म 'गोल गोआ' आपको कर देगी झकझोर, जानिए आखिर क्यों फुटबॉल की दुनिया के महारथी 'चेल्सी से लेकर एडर्सन' दे रहे हैं 2 वैक्सीन डोज़ लगाकर फ़िल्म देखने पर जोर ! गोआ की मस्ती, लोकेशन और गोआ की गलियारों के दिलफेंक अंदाज़ को फिल्मों में बखूबी से दिखाया गया हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं की फेंनी, फिश के अलावा गोआ के लोगों के रगो में फुटबॉल का भी नशा हैं। जी हाँ ऐसा नशा जो जूनिनियत के हद पार हैं। और इसी सच्ची दास्तान को पर्दे पर बहुत ही खूबसूरती से दिखा रही हैं निर्देशिका लिज़ा हेडलॉफ जिसे 'गोइंग टू स्कूल' नॉन चैरिटेबल एजुकेशन ट्रस्ट के अंतर्गत बनाया गया हैं। जहां ऐसी कहानियों को दिखाया जाता हैं जिसे देखकर युवा पीढ़ी प्रेरित हो सके।1 घण्टे की इस फीचर फिल्म में गोआ की पहली महिला कोच के संघर्ष और इस खेल को राष्ट्रीय स्तर तक पहुँचाने के नायाब सफर को दिखाया गया हैं।इतना ही नही फुटबॉल खेल को लेकर आज की युवा पीढ़ी की लड़कियों के पागलपन को भी दिखाया गया हैं।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia