बिग बॉस 14: विनर रुबीना ने कहा- सभी के दिलों को छूने का उनका एक ही मंत्र था, जानें रनरअप राहुल वैध ने क्या कहा

बिग बॉस 14' की विनर रहीं रुबीना दिलैक ने कहा कि वह उस घर को काफी मिस करेंगी, जहां वह पिछले 100 दिनों से रह रही थीं। रविवार रात को विनर घोषित हुईं रुबीना अपने साथ 36 साथ रुपये और बिग बॉस की ट्रॉफी घर ले गईं।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

आईएएनएस

रिएलिटी शो 'बिग बॉस 14' की विनर रहीं रुबीना दिलैक का कहना है कि सभी के दिलों को छूने का उनका एक ही मंत्र था और वह है घर में ईमानदारी से अपने गेम को खेलना। उन्होंने आगे यह भी कहा कि वह उस घर को काफी मिस करेंगी, जहां वह पिछले 100 दिनों से रह रही थीं। रविवार रात को विनर घोषित हुईं रुबीना अपने साथ 36 साथ रुपये और बिग बॉस की ट्रॉफी घर ले गईं। उन्होंने राहुल वैद्य, राखी सावंत, निक्की तंबोली और अली गोनी को मात दी।

रुबीना ने कहा, "मैं हमेशा यही दुआ करती थी कि मैं फाइनल तक पहुंच जाऊं क्योंकि लोगों के दिलों को छूने का मेरा एक ही मंत्र घर में ईमानदारी से रहना था। ट्रॉफी जीतना किस्मत का खेल है। मैंने इसे किस्मत के भरोसे ही छोड़ रखा था, लेकिन जब आपको आपकी कड़ी मेहनत का नतीजा मिलता है, तो वह एक बेहद खूबसूरत चीज होती है।"

रुबीना इकलौती ऐसी अभिनेत्री हैं, जिन्होंने सलमान खान द्वारा होस्ट किए जाने वाले इस शो में लगभग पांच महीने के अपने प्रवास को पूरा किया। अब चूंकि वह जीत का ताज पहनकर अपने खुद के घर लौट रही हैं, तो उन्हें 'बिग बॉस' के घर की याद अभी से आने लगी हैं।

रुबीना कहती हैं, "मुझे घर (बिग बॉस हाऊस) की याद आ रही है। अब मुझे लग रहा है कि मैं वापस से अंदर नहीं जा सकती इसलिए मुझे इसकी यादें और ज्यादा सता रही हैं।" जीत में मिली राशि का वह क्या करेंगी? इसके जवाब में रुबीना ने कहा, "मेरी गोद में मेरी ट्रॉफी एक बच्चे की तरह से है और मुझे पता नहीं था कि मुझे जीत की राशि भी मिलेगी। सच बताऊं तो अभी पता नहीं है कि इनका क्या करूंगी।"

वहीं सिंगर राहुल वैद्य बिग बॉस 14 के फिनाले में टॉप 2 में पहुंचे, लेकिन रुबीना दिलैक से हार गए। हालांकि, उनका कहना है कि आश्चर्यजनक तौर पर वे अपनी हार से दुखी नहीं हैं, बल्कि वे तो इस बात से ही खासे खुश हैं कि वे इस विवादित रियलिटी शो को जीतने वाले टॉप 2 प्रतियोगी बने। उन्होंने बताया, "मैं बहुत खुश हूं। जिस दिन मैं इस शो में शामिल हुआ था, तब भी मैंने यहां तक पहुंचने की उम्मीद नहीं की थी। मैं टॉप 2 में पहुंचा और आश्चर्यजनक तौर पर मुझे इस बात का दुख नहीं है कि मैं जीत नहीं पाया। मैं बहुत खुश हूं कि मैंने अच्छे से यह गेम खेला और अब मैं अपने घर और गर्लफ्रेंड के पास वापस लौट रहा हूं।"

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia