ऑस्ट्रेलिया के टी-20 के कप्तान फिंच ने अपने फैसले से सबको चौंकाया! इंटरनेशनल क्रिकेट को कहा अलविदा

एरोन फिंच की कप्तानी में ही ऑस्ट्रेलिया ने पहली बार 2021 में टी-20 वर्ल्ड कप का खिताब अपने नाम करने में सफलता हासिल की थी। टेस्ट और वनडे में फिंच का बल्ला भले ही कुछ समय से खामोश था लेकिन टी-20 में उनका प्रदर्शन शानदार रहा है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

ऑस्ट्रेलिया को पहली बार टी-20 विश्व कप दिलाने वाले कप्तान एरोन फिंच ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया है। बता दें कि फिंच ने वनडे और टेस्ट क्रिकेट खेलना पहले ही छोड़ दिया था। सफेद गेंद के खतरनाक बल्लेबाज माने जाने वाले फिंच ने अब क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट को भी छोड़ने का फैसला किया है। इस तरह एरोन फिंच ने अपने इंटरनेशनल पारी की समाप्ति की घोषणा कर दी है। गौरतलब है कि फिंच की कप्तानी में ही ऑस्ट्रेलिया ने पहली बार 2021 में टी-20 वर्ल्ड कप का खिताब अपने नाम करने में सफलता हासिल की थी। टेस्ट और वनडे में फिंच का बल्ला भले ही कुछ समय से खामोश था लेकिन टी-20 में उनका प्रदर्शन शानदार रहा है।

फिंच ने ऑस्ट्रेलिया के लिए 76 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में टीम की कप्तानी की है। फिंच ने अपने करियर में 5 टेस्ट, 146 वनडे और 103 टी-20 मैच खेले हैं। फिंच ने संन्यास का ऐलान करते हुए कहा कि मुझे इस बात का अहसास है कि मैं अब 2024 का टी-20 वर्ल्ड कप नहीं खेल पाऊंगा। ऐसे में ये रिटायरमेंट लेने का सही समय है जिससे टीम अपनी आगे की रणनीति पर काम कर सके।


हालांकि फिंच ने क्रिकेट को अभी पूरी तरह से अलविदा नहीं कहा है। फिंच अभी टी-20 क्रिकेट खेलते रहेंगे। उनका बल्ला अब भी बिग बैश लीग में बोलता रहेगा। कुछ समय से अपने प्रदर्शन को लेकर आलोचना छेल रहे फिंच साल 2022 में ऑस्ट्रेलिया में खेले गए टी-20 वर्ल्ड कप में कप बचाने में कामयाब नहीं हो पाए थे। जिसके बाद से उनकी कप्तानी पर भी सवाल उठने लगे थे। अंतत: फिंच ने इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहने का फैसला किया।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;