पूर्व पाक गेंदबाज ने बताया क्यों इंग्लैंड में नहीं चल रहा कप्तान कोहली का बल्ला, जो रूट को लेकर कही ये बड़ी बात

भारत और इंग्लैंड के बीच खेले जा रहे पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में भारतीय कप्तान विराट कोहली का बल्ला अभी तक खामोश रहा है जो कि क्रिकेट जगत में चर्चा का सबसे बड़ा मुद्दा बन गया है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

भारत और इंग्लैंड के बीच खेले जा रहे पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में भारतीय कप्तान विराट कोहली का बल्ला अभी तक खामोश रहा है जो कि क्रिकेट जगत में चर्चा का सबसे बड़ा मुद्दा बन गया है। उन्होंने अब तक पांच पारियों में 24.80 की औसत से 124 रन बनाए हैं। विराट कोहली के बल्लेबाजी पर पाकिस्तान के पूर्व गेंदबाज आकिब जावेद ने अपना विचार साझा किया है।

जावेद का मानना है कि इंग्लैंड में संघर्ष करना एशियाई बल्लेबाजों की खासियत है।
जावेद ने पाक टीवी डॉट कॉम के यूटूब चैनल पर कहा, कोहली एक एशियाई खिलाड़ी है, वह ऑस्ट्रेलिया में सफल हो सकते हैं, लेकिन इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका जैसी जगहों पर या कहीं भी जहां गेंद स्विंग या सीम होती है, उनको समस्या होगी। वहा गेंद को दूर से खेलेंगे क्योंकि उनको नियंत्रित आउटस्विंग खेलने में परेशानी होती है।


जावेद ने कहा कि, कोहली ने इंग्लैंड में अपनी पिछली टेस्ट सीरीज में पांच मैचों की श्रृंखला में 57.85 की औसत से 593 रन बनाए थे। इसके अलावा, कोहली 2017/18 में दक्षिण अफ्रीका में भारत की पिछली टेस्ट सीरीज में सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी थे। उन्होंने कठिन परिस्थितियों में तीन टेस्ट मैच में बल्लेबाजी करते 286 रन बनाए थे।

इस बीच जावेद ने आगे कहा कि इंग्लैंड के कप्तान जो रूट का एयर टाइट डिफेंस उन्हें बीच में ज्यादा देर तक टिके रहने में मदद कर रहा है। उन्होंने आगे कहा, इन कठिन परिस्थितियों में जो रूट की एयर-टाइट तकनीक उन्हें कोहली से बेहतर बनाती है क्योंकि वह जानते हैं कि गेंद को देर से कैसे खेलना है।


बता दें कि दोनो टीमों के बीच पांच मैचों की टेस्ट सीरीज फिलहाल 1-1 की बराबरी पर है। लॉर्डस टेस्ट में भारत ने इंग्लैंड को हराया था, वहीं लीड्स में टीम इंडिया को पारी की हार झेलनी पड़ी थी। चौथा टेस्ट लंदन के ओवल में गुरुवार से शुरू हो रहा है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia