टी-20 विश्व कप: अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से रिटायर होने के फैसले पर गेल बोले- समय आ रहा है...

वेस्ट इंडीज के क्रिकेटर क्रिस गेल ने सफाई देते हुए कहा है कि अभी उन्होंने रिटायर होने के बारे में कोई फैसला नहीं किया है, लेकिन उनके अंतरराष्ट्रीय करियर के खत्म होने का समय जल्द ही आ रहा है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

वेस्ट इंडीज के क्रिकेटर क्रिस गेल ने सफाई देते हुए कहा है कि अभी उन्होंने रिटायर होने के बारे में कोई फैसला नहीं किया है, लेकिन उनके अंतरराष्ट्रीय करियर के खत्म होने का समय जल्द ही आ रहा है। आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप में खराब प्रदर्शन की वजह से उनकी टीम टूर्नामेंट से बाहर हो गई। दो बार के टी20 विश्व कप चैंपियन टीम शनिवार को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आठ विकेट से मैच हार गई। इसके बाद गेल ने संकेत दिया था कि यह देश के लिए उनका आखिरी मैच हो सकता हैं। उन्होंने कहा, "मैं अर्ध-सेवानिवृत्त हूं।

गेल की टीम के साथियों द्वारा मैदान पर बल्लेबाजी करने जाते समय उनको सराहना की गई और उनके आउट होने के बाद भी सलामी दी गई। इसके बाद उन्होंने अपने से मुकालात करते हुए उनको दस्ताने भेंट किए। वहीं, मैच के अंत में मैदान से बाहर जाते समय संन्यास लेने वाले ड्वेन ब्रावो के साथ उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर भी दिया गया।

42 साल के आक्रामक बल्लेबाज गेल आउट होने के बाद मैदान पर फैंस को बल्ला उठाया कर धन्यवाद दिया और इससे सबको लगा कि यह उनका विदाई मैच था।

हालांकि, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के मैच के बाद एक फेसबुक शो में गेल ने साफ किया कि उन्होंने अभी संन्यास लेने का फैसला नहीं किया हैं।

गेल ने कहा, "मैं स्टैंड में फैंस के साथ बातचीत करने के दौरान मजाक कर रहा था। जो कुछ भी हुआ उसे एक तरफ रख दें, हालांकि यह मेरा आखिरी विश्व कप मैच था।

अपनी बात को साफ करते हुए मैच से पहले गेल ने कहा, "मैं एक और विश्व कप खेलना पसंद करूंगा। लेकिन मुझे नहीं लगता कि वे मुझे अनुमति देंगे।


गेल ने कहा, " मेरा एक अभूतपूर्व करियर रहा है। मैंने किसी भी प्रकार की संयास की घोषणा नहीं की। उन्होंने मुझे जमैका में मेरे घरेलू मैदान पर अपने लोगों के सामने एक मैच दिया है, जिससे मैं फैंस को शुक्रिया बोल सकता हूं। अगर नहीं, मैं थोड़े समय बाद इसकी घोषणा करूंगा और फिर मैं बैकएंड में डीजे ब्रावो से साथ मिलकर सबको धन्यवाद कहूंगा।"

वेस्टइंडीज के इस दिग्गज खिलाड़ी के पास 79 टी20, 103 टेस्ट और 301 वनडे खेलने का अनुभव है, गेल का अंतरराष्ट्रीय करियर 22 साल और तीन दशक का रहा है।

गेल के लंबे करियर में कई उथल पुथल चीजें हुई है जिन्हें भूला दिया गया, जिसमें 2005 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट में संयास के साथ दिल की सर्जरी भी शामिल है।

वो कहते हैं, मैंने बहुत संघर्ष किया है। आपने दिल की सर्जरी का उल्लेख किया है, लेकिन मेरा करियर शानदार रहा है। मैं वास्तव में आज यहां खड़े होने के लिए सबको धन्यवाद देना चाहता हूं। 42 की उम्र में भी अच्छा कर रहा हूं। मेरा करियर बहुत अच्छा रहा है। हां थोड़ी दिक्कत का सामना करना पड़ा, लेकिन मैंने वेस्टइंडीज क्रिकेट में खून पसीना बहाया है। आप इसे जो भी बोले मैं अभी भी वेस्टइंडीज के लिए बल्लेबाजी कर रहा हूं।

गेल ने कहा, "वेस्टइंडीज के लिए खेलना हमेशा से खुशी की बात थी, मैं वेस्टइंडीज के बारे हमेशा तैयार हूं। जब हम खेल हारते हैं तो वास्तव में बहुत दुख होता है। फैंस मेरे लिए बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि मैं एक एंटरटेनर हूं। जब मुझे उनका मनोरंजन करने का मौका नहीं मिलता है तो इससे मुझे बहुत दुख होता है। हो सकता है कि उस बात को न समझो लेकिन जब मैं फैंस का मनोरंजन नहीं कर पाता तो दुखी हो जाता हूं। खास कर इस टी20 वर्ल्ड कप के लिए हूं। वहीं, इस टी20 वर्ल्ड कप से पहले 'यूनिवर्स बॉस' बीमार पिता के सदमे से जूझ रहे हैं।

उन्होंने कहा, "ज्यादातर लोगों को यह भी नहीं पता था कि मेरे पिताजी विश्व कप के पहले मैच के बाद से बीमार हैं, इसलिए मुझे जमैका वापस जाना होगा। देखते हैं कि उनकी हालत को लेकर डॉक्टरों क्या कहते है। वह 91 साल के है और अभी भी संघर्ष कर रहे है। इसलिए मुझे जल्द घर वापस जाना है।"

गेल ने कहा, "कभी-कभी एक खिलाड़ी के रूप में हम एक अलग सोच के साथ खेलते है और हम इन बातों को सामने नहीं कह पाते। हम यहां अपना काम करने के लिए आए हैं। वे सब पर्दे के पीछे की बात है। आपको खिलाड़ी के रूप में एक अच्छा प्रदर्शन करना हैं।

गेल ने अपनी कड़ी मेहनत के बारे में भी बताया, मैं एक बहुत ही ²ढ़निश्चयी व्यक्ति हूं। मैं कड़ी मेहनत करता हूं। बहुत से लोग कड़ी मेहनत नहीं देखते हैं, लेकिन मैं चुपचाप कड़ी मेहनत करता हूं। मेरे में जो टैलेंट है उसका मैं बुद्धिमानी से इस्तेमाल करता हूं।

उन्होंने कहा, " जब मैं बड़ा हुआ तो मेरे पास कुछ भी नहीं था, मैं बस खेल के प्रति प्रेरित था। जब मेरा करियर शुरू हुआ, तो मैंने मां से कहा, मैं तुम्हें एक घर दूंगा, जब मुझे पहली कमाई मिलेगा तो मैं एक कार खरीदूंगा। यहीं सारी चीजें होती है जो आपको आगे बढ़ने पर मजबूर करती है। मैंने इसी मानसिक शक्ति के साथ वेस्ट इंडीज और दुनियाभर के लिए 20 साल तक खेला ।

जब भी गेल संयास का फैसला लेते हैं, तो वह एक टी20 विरासत छोड़ जाएंगे, जो खेल के सबसे छोटे प्रारूप के इतिहास में बेमिसाल है। उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में भी शानदार प्रदर्शन किया, जिसमें उन्होंने 42.18 की औसत से 15 शतकों और 333 के उच्च स्कोर के साथ 7214 रन बनाए।

वहीं, वनडे अंतरराष्ट्रीय मैचों में, उन्होंने 37.83 औसत के साथ 10,000 से अधिक रन बनाए, जिसमें 2015 के आईसीसी क्रिकेट विश्व कप में 215 का उच्च स्कोर शामिल है। लेकिन, सबसे ज्यादा उनको नए अंतरराष्ट्रीय प्रारूप को लेकर याद किया जाएगा।

गेल, टी20 विश्व कप के 2012 और 2016 के सीजन में टीम के सदस्य रहे। वह इस प्रारूप में शतक बनाने वाले पहले खिलाड़ी थे। ऐसा उन्होंने पहले टी20 विश्व कप मैच में किया था। वह दुनियाभर की फ्रैंचाइजी लीगों में भी एक प्रमुख खिलाड़ी रहे हैं। उन्होंने किसी भी खिलाड़ी की तुलना में टी20 मैच में सबसे ज्यादा (14,321) रन बनाए और रिकॉर्ड 22 टी20 शतक लगाए हैं।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 07 Nov 2021, 3:40 PM