अश्विन ने रचा इतिहास, दुनिया के इस महान खिलाड़ी की बराबरी की, कोहली गेंदबाजी के हुए दीवाने, कही ये बड़ी बात

अश्विन करीब एक साल के अंतराल के बाद भारत के लिए टेस्ट मैच खेल रहे थे। अंतिम बार वह एडिलेड में 2018 में खेले थे। अश्विन के अभी 66 टेस्ट मैचों में 350 विकेट हैं। वह भारत की ओर से सबसे तेजी से 350 विकेट हासिल करने वाले गेंदबाज बन गए हैं।

फोटो: IANS
फोटो: IANS

नवजीवन डेस्क

टीम इंडिया के ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने रविवार को सबसे तेजी से 350 टेस्ट विकेट लेने के श्रीलंका के महान स्पिनर मुथैया मुरलीधरन के टेस्ट रिकार्ड की बराबरी कर ली है। अश्विन ने यहां एसीए-वीसीए स्टेडियम में दक्षिण अफ्रीका के साथ खेले गए पहले टेस्ट मैच के 5वें दिन एक विकेट लेने के साथ ही मुरलीधरन के रिकार्ड की बराबरी कर ली। मुरलीधरन भी 66 टेस्ट मैचों में 350 विकेट लेने में सफल रहे थे। अश्विन ने इस मैच की पहली पारी में 7 विकेट लिए थे। भारत ने यह मैच 203 रनों से जीता।

अश्विन ने रचा इतिहास, दुनिया के इस महान खिलाड़ी की बराबरी की, कोहली गेंदबाजी के हुए दीवाने, कही ये बड़ी बात

अश्विन करीब एक साल के अंतराल के बाद भारत के लिए टेस्ट मैच खेल रहे थे। अंतिम बार वह एडिलेड में 2018 में खेले थे। अश्विन के अभी 66 टेस्ट मैचों में 350 विकेट हैं। वह भारत की ओर से सबसे तेजी से 350 विकेट हासिल करने वाले गेंदबाज बन गए हैं।

इससे पहले भारत के पूर्व लेग स्पिनर अनिल कुंबले ने 77 टेस्ट मैचों में 350 विकेट का आंकड़ा छुआ था और अब तक भारत की ओर से यह रिकार्ड कुम्बले के ही नाम था।

वहीं टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में शानदार जीत दर्ज करने के बाद पूरी टीम की सराहना की है। कोहली ने खासतौर पर रोहित शर्मा, मयंक अग्रवाल और गेंदबाजों की तारीफ की। सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा के रिकॉर्ड शतक के बाद मोहम्मद शमी, रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा की घातक गेंदबाजी की मदद से भारत ने यहां एसीए-वीसीए स्टेडियम में खेले गए पहले टेस्ट मैच के 5वें और अंतिम दिन दक्षिण अफ्रीका को हरा दिया।

कोहली ने मैच के बाद कहा, “पहले तीन दिन विकेट काफी अच्छी थी। हमारा एक सत्र खराब रहा, लेकिन जब आप बोर्ड पर 500 रन लगा देते हैं तो आप हमेशा आगे होते हैं। मेहमान टीम ने अच्छी वापसी की, इसके बावजूद हमारे पास अच्छी बढ़त थी। रोहित और मयंक ने शानदार बल्लेबाजी की।”

अश्विन ने रचा इतिहास, दुनिया के इस महान खिलाड़ी की बराबरी की, कोहली गेंदबाजी के हुए दीवाने, कही ये बड़ी बात

कोहली ने कहा, “यहां का मौसम अच्छा था और पिच भी धीमी थी। अगर तेज गेंदबाज ये सोचते हैं कि स्पिनर इस पिच पर अच्छा कर सकते हैं तो फिर ये सही नहीं है। उन्हें छोटे-छोटे अंतराल पर गेंदबाजी करने के लिए कहा गया ताकि वे अपना 100 प्रतिशत दे सकें।”

कप्तान ने गेंदबाजों की तारीफ करते हुए कहा, "जडेजा और अश्विन ने एक बार फिर से बेहतरीन गेंदबाजी की। दूसरी पारी में शमी मुख्य गेंदबाज बनकर उभरे। सभी ने इस मैच में अपना योगदान दिया। बल्लेबाजी अच्छी थी, लेकिन गेंदबाजों के लिए थोड़ा मुश्किल था।”

Published: 6 Oct 2019, 6:29 PM
लोकप्रिय