दूसरा टेस्ट : तीसरे दिन तक दक्षिण अफ्रीका का स्कोर 118/2, भारत को जीत के लिए 8 विकेट की जरूरत

भारत को पहली बार अफ्रीकी जमीन पर सीरीज जीतने के लिए आठ विकेट लेने होंगे। इसलिए, जोहानसबर्ग में चौथा दिन अहम और रोमांचक होने के आसार है। जबकि, कप्तान डीन एल्गर (46) और रस्सी वैन डेर डूसन (11) रन बनाकर क्रीज पर मौजूद हैं।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया
user

आईएएनएस

वांडर्स में बुधवार को दूसरे टेस्ट के तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक भारत के 240 रनों के लक्ष्य के जवाब में दक्षिण अफ्रीका ने 40 ओवरों में दो विकेट खोकर 118 रन बनाए। अब मेजबान टीम को जीतने के लिए 122 रनों की जरूरत है। वहीं, भारत को पहली बार अफ्रीकी जमीन पर सीरीज जीतने के लिए आठ विकेट लेने होंगे। इसलिए, जोहानसबर्ग में चौथा दिन अहम और रोमांचक होने के आसार है। जबकि, कप्तान डीन एल्गर (46) और रस्सी वैन डेर डूसन (11) रन बनाकर क्रीज पर मौजूद हैं।

भारत की ओर से शार्दुल ठाकुद और आर अश्विन ने एक-एक विकेट अपने नाम किए, क्योंकि ठाकुर ने एडेन मार्करम (31) रन पर आउट किया, तो वहीं अश्विन ने कीगन पिटरसन (28) रन पर पवेलियन भेज दिया।

इससे पहले, भारत के 240 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी दक्षिण अफ्रीका की टीम की शुरुआत अच्छी रही, क्योंकि उनके सलामी बल्लेबाजी मार्करम (24) और कप्तान एल्गर (10) ने चाय तक बिना कोई विकेट गंवाए 34 रन बना लिए थे। टीम को अभी भी जीते के लिए 206 रनों की जरूरत थी। वहीं आज के दिन 40 ओवर फेंके जाने थे। वहीं, शार्दुल ठाकुर (28) और हनुमा विहारी के नाबाद 40 रन की वजह से भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 240 रनों का लक्ष्य दिया। दक्षिण अफ्रीका ने इस मैदान पर कभी भी 220 से अधिक का पीछा नहीं किया है।

अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा के अर्धशतक और पहले सत्र में ठाकुर और विहारी ने भारत की बढ़त को 200 के पार ले जाने में शानदार प्रदर्शन किया। ठाकुर ने दूसरे दिन गेंद से भारत की वापसी करवाई थी। उन्होंने 7 विकेट अपने नाम किए थे। लंच के समय 161 की बढ़त के साथ फिर से शुरू करते हुए ठाकुर ने मार्को जेनसेन की गेंद पर कई बाउंड्री लगाई।


ठाकुर और विहारी की शानदारी बल्लेबाजी के कारण भारत की बढ़त 200 के पार पहुंच गई। इस बीच, जेनसेन ने ठाकुर को आउट करने के बाद मोहम्मद शमी को भी जल्दी चलता किया। विहारी और जसप्रीत बुमराह ने कगिसो रबाडा की गेंद पर क्रमश: एक चौका और छक्का लगाया, लेकिन अगले ओवर में लुंगी एनगिडी ने उन्हें आउट कर दिया। इसके बाद, भारत की दूसरी पारी 266 रनों पर सिमट गई। वहीं, विहारी 40 रन बनाकर नाबाद रहे। इस तरह भारत ने प्रोटियाज को 240 रनों का लक्ष्य दिया।

इससे पहले, शुरुआती सत्र में रहाणे और पुजारा ने दक्षिण अफ्रीका के गेंदबाजों पर प्रहार करते हुए तेजी से रन बटोरे। लेकिन मेजबान टीम ने दूसरे सत्र में वापसी करते हुए 37 रन देकर चार विकेट लिए, क्योंकि रबाडा ने पुजारा, रहाणे और ऋषभ पंत को जल्दी पवेलियन भेजने का काम किया।

संक्षिप्त स्कोर :

भारत 202 और 266 (अजिंक्य रहाणे 58, चेतेश्वर पुजारा 53, कगिसो रबाडा 3/77, लुंगी एनगिडी 3/43) दक्षिण अफ्रीका 229, दूसरी पारी में 40 ओवरों में 118/2 (डीन एल्गर 46, एडेन मार्करम 24, आर अश्विन 1/14, शार्दुल ठाकुर 1/24)।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia