टी20 विश्व कप में जीत के साथ खत्म हुआ भारत का सफर, नामीबिया को 9 विकेट से हराया, खूब चला हिटमैन का बल्ला

टी 20 विश्व कप में भारत ने जीत के साथ अपना सफर खत्म किया है। हिटमैन रोहित शर्मा के ताबड़तोड़ 56 और के एल राहुल के शानदार 54 रन की मदद से भारत ने नामीबिया को 9 विकेट से हराया।

फोटो : @T20WorldCup
फोटो : @T20WorldCup
user

आईएएनएस

रोहित शर्मा (56) की धुआंधार बल्लेबाजी की वजह से सोमवार को आईसीसी टी20 विश्व में दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए मैच में भारत ने नामीबिया को 9 विकेट से हरा दिया। पहले बल्लेबाजी करने उतरी नामीबिया की टीम ने 20 ओवरों में 8 विकेट के नुकसान पर 132 रन बनाए थे। इसके जवाब में, भारतीय टीम ने एक विकेट खोकर 15.2 ओवरों में ही लक्ष्य को पूरा कर लिया। सलामी बल्लेबाज रोहित और केएल राहुल ने 59 गेंदों में 86 रनों की एक बार फिर शानदार साझेदारी की। नामीबिया की ओर से जेन फ्रिलिंक को एक विकेट मिला।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम ने ताबड़तोड़ शुरुआत की। उन्होंने तेज गति से रन बनाते हुए पावरप्ले में ही बिना विकेट खोए 54 रन जोड़े। इस दौरान, रोहित और राहुल विरोधी टीम के गेंदबाजों पर कहर बनकर टूट रहे थे, जिससे रोहित ने 31 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया। लेकिन तेज गति से रन बनाने के चक्कर में रोहित सात चौके और दो छक्कों की मदद से 37 गेंदों में 56 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। इस बीच, भारतीय टीम ने एक विकेट गंवाकर 10 ओवरों में 87 रन बनाए।

तीसरे स्थान पर आए सूर्यकुमार यादव ने राहुल के साथ मिलकर पारी को आगे बढ़ाया। दोनों ने मिलकर टीम का स्कोर 12 ओवरों में 100 रन के पार पहुंचाया। इस दौरान, राहुल ने भी 35 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया। इसके साथ ही राहुल ने चार चौके और दो छक्कों की मदद से 36 गेंदों में नाबाद 54 रन बनाए। वहीं सूर्यकुमार ने चार चौके की मदद से 19 गेंदों में नाबाद 25 रन बनाकर टीम को आसान जीत दिलाई।

इससे पहले, बल्लेबाजी के लिए उतरी नामीबिया की टीम की शुरुआत खराब रही, क्योंकि उन्होंने पावरप्ले में दो विकेट के नुकसान पर 34 रन ही जोड़े। इस दौरान, माइकल वैन लिंगन (14) और क्रेग विलियम्स (0) रन बनाकर पवेलियन लौट गए। इसके बाद जल्द ही स्टीफन बार्ड एक चौका और एक छक्के की मदद से 21 गेंदों में 21 रन बनाकर जडेजा के शिकार बन गए।
चौथे और पांचवें स्थान पर बल्लेबाजी के लिए कप्तान गेरहार्ड इरास्मस और जान निकोल लॉफ्टी-ईटन ने मिलकर टीम के स्कोर को आगे बढ़ाया। इस बीच, ईटन (5) रन बनाकर अश्विन को अपनी विकेट झोली में देकर चलते बने। छठे नंबर पर आए डेविड विसे ने कप्तान इरास्मस के साथ मिलकर कुछ अच्छे शॉट खेले, जिससे 10 ओवरों में चार विकेट के नुकसान पर टीम ने 51 रन बनाए।


इसके बाद, दोनों ने मिलकर तेज गति से रन बनाना शुरू किया। लेकिन कप्तान इरास्मस एक चौके की मदद से 20 गेंदों में 12 रन मारकर आउट हो गए। सातवें स्थान पर बल्लेबाजी के लिए आए जे जे स्मिट और विसे ने पारी को संभाला और रनों की रफ्तार को आगे बढ़ाया। इस बीच, 15 ओवर में जडेजा की गेंद पर स्मिट को (9) रन पर वापस भेजा। जल्द ही जेन ग्रीन (0) भी आउट हो गए। लेकिन विसे और जेन फ्रिलिंक ने टीम के स्कोर को 17वें ओवर में 100 के पार पहुंचाया।

आखिरी के दो ओवरों में विसे और फ्रिलिंक ने धीमी बल्लेबाजी की। वहीं, विसे (26) रन बनाकर बुमराह की गेंद पर आउट हो गए। इसके बाद, दोनों नाबाद बल्लेबाज फ्रिलिंक (15) और रूबेन ट्रम्पेलमैन (13) रनों की बदौलत नामीबिया का स्कोर 8 विकेट पर 132 रन पहुंच सका।

वहीं, भारत की ओर से रवींद्र जडेजा और आर अश्विन को तीन-तीन सफलताएं मिलीं, जबकि जसप्रीत बुमराह ने दो विकेट लिए।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia