कोहली की फॉर्म को लेकर फिर बोले कपिल, बताया कैसे पुराने रंग में वापस आ सकते हैं विराट

1983 विश्व कप विजेता कपिल देव को लगता है कि कोहली अभी फार्म में नहीं हैं, लेकिन वह एक सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज हैं। वे अगर एक बार अच्छे से अपने बल्ले से खेले तो वे बहुत जल्द अपनी फॉर्म में वापसी कर सकते हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

रवि प्रकाश

एक वक्त पर सचिन तेंदुलकर के शतकों के रिकॉर्ड को तोड़ने के कतार में खड़े विराट कोहली का फॉर्म उनसे ऐसा रूठा है कि उनके बल्ले से करीब तीन सालों में एक भी शतक नहीं आए। विराट कोहली ने नवंबर 2019 के बाद से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में शतक नहीं बनाया है और सभी प्रारूपों में खराब प्रदर्शन कर रहे हैं। पूरे क्रिकेट जगत में उनके फॉर्म को लेकर चर्चे हैं। कई धुरंधर तो उन्हें टीम से बाहर तक करने की सलाह दे चुके हैं। पूर्व कप्तान कपिल देव भी उनके प्रदर्शन को लेकर सवाल उठाए थे। अब एक बार फिर से कोहली के फॉर्म को लेकर कपिल ने अपनी राय रखी है।

1983 विश्व कप विजेता कपिल देव को लगता है कि कोहली अभी फार्म में नहीं हैं, लेकिन वह एक सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज हैं। वे अगर एक बार अच्छे से अपने बल्ले से खेले तो वे बहुत जल्द अपनी फॉर्म में वापसी कर सकते हैं।

भारतीय टीम में पिछले पांच से छह वर्षो में विराट साथ रहे हैं, जहां उन्होंने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन दिखाया है। हालांकि, पिछले दो वर्षो से विराट टीम में योगदान नहीं दे पा रहे हैं। मैं चाहता हूं कि ऐसा खिलाड़ी वापस अपनी फॉर्म में आए और टीम में अपना योगदान दें। उनको अपनी बल्लेबाजी में वापस आने के लिए खुद रास्ता ढूढना होगा। विश्वकप पास में ही है और उनका फॉर्म में आना महत्वपूर्ण है।


कपिल ने एबीपी न्यूज से कहा, "वे रणजी ट्रॉफी खेलें या कहीं भी रन बनाएं। उन्होंने आत्मविश्वास को वापस लाने की जरूरत है। यह एक महान और अच्छे खिलाड़ी के बीच का अंतर है। उनके जैसे महान खिलाड़ी को फॉर्म में वापस आने के लिए इतना समय नहीं लेना चाहिए।"

इंग्लैंड दौरे के समापन के बाद, कोहली तीन वनडे और पांच टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों के लिए वेस्टइंडीज का दौरा नहीं करेंगे। यह पूछे जाने पर कि क्या कोहली को बाहर किया गया है या आराम दिया गया है, कपिल ने कहा, "मैं यह नहीं कह सकता कि विराट कोहली जैसे बड़े खिलाड़ी को बाहर कर देना चाहिए। अगर आपने कहा है कि उन्हें सम्मान देने के लिए आराम दिया गया है तो इसमें कोई बुराई नहीं है।"


सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि ऐसे खिलाड़ी को फॉर्म में कैसे लाया जाए? वह एक साधारण क्रिकेटर नहीं है। उन्हें अधिक अभ्यास करना चाहिए और अपनी फॉर्म वापस पाने के लिए अधिक मैच खेलने चाहिए। कपिल ने इस ओर भी इशारा करते हुए कहा कि क्रिकेट के प्रशंसक लंबे समय से कोहली के फॉर्म में आने का इंतजार कर रहे हैं।


कोहली की फॉर्म को लेकर फिर बोले कपिल, बताया कैसे पुराने रंग में वापस आ सकते हैं विराट

बता दें कि नवंबर 2019 के बाद से विराट कोहली ने किसी भी फॉर्मेट में शतक नहीं लगाए हैं। इस दौरान कोहली ने 32 टेस्ट में 27.25 की औसत से 872 रन बनाए हैं, जिसमें 6 अर्धशतक शामिल है। कोहली ने नवंबर 2019 से अब तक 22 वनडे मैच खेले हैं, जिसमें 36.68 की औसत से 807 रन बनाए हैं। जिसमें 10 अर्ध शतक भी शामिल है। जबकि टी-20 में विराट ने 24 मैचों में 858 रन बनाए हैं। इन 24 मैचों में इनका औसत 50 से ऊपर का रहा है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia