श्रीसंत के खिलाफ LLC ने जारी किया कानूनी नोटिस, गौतम गंभीर पर लगाए थे बड़े आरोप

श्रीसंत ने 6 दिसंबर को इंडिया कैपिटल्स और गुजरात जाइंट्स के बीच मुकाबले के दौरान गौतम गंभीर पर उन्हें 'फिक्सर' करार देने का आरोप लगाया था।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर और एस श्रीसंत के बीच खड़ा हुआ विवाद अब विकराल रूप धारण करता जा रहा है। लीजेंड्स लीग क्रिकेट (एलएलसी) ने इस मामले में श्रीसंत को कानूनी नोटिस जारी किया है। इसके बाद यह लड़ाई अब खेल के मैदान से होते हुए कोर्ट तक पहुंच गई है।

श्रीसंत ने 6 दिसंबर को इंडिया कैपिटल्स और गुजरात जाइंट्स के बीच मुकाबले के दौरान गौतम गंभीर पर उन्हें 'फिक्सर' करार देने का आरोप लगाया था। दरअसल बुधवार को लालभाई कॉन्ट्रैक्टर स्टेडियम में इंडिया कैपिटल्स और गुजरात जायंट्स के बीच एलएलसी सीज़न 2 एलिमिनेटर मैच के दौरान गंभीर और श्रीसंत के बीच तीखी नोकझोंक हुई जिसके बाद अंपायरों को स्थिति पर काबू पाने के लिए बीच-बचाव करना पड़ा।

मैच के अगले दिन श्रीसंत सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म इंस्टाग्राम पर लाइव हुए और गंभीर पर अभद्र शब्द कहने का आरोप लगाया। केरल के तेज गेंदबाज ने यह भी कहा कि गंभीर ने 2013 इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) स्पॉट फिक्सिंग कांड का जिक्र करते हुए उन्हें 'फिक्सर' कहा था।


इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, एलसीसी के कानूनी नोटिस में उल्लेख किया गया है कि श्रीसंत टी20 टूर्नामेंट में खेलते समय अपने अनुबंध का उल्लंघन करने के दोषी थे।

रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि तेज गेंदबाज के साथ बातचीत तभी शुरू की जाएगी जब वह लीग के पूर्वावलोकन के दौरान खिलाड़ी की आलोचना करने वाले वीडियो हटा देंगे। इससे पहले, एलसीसी ने एक बयान जारी कर कहा था कि वह भारत के पूर्व साथियों गंभीर और श्रीसंत से जुड़ी घटना में आचार संहिता के उल्लंघन की आंतरिक जांच करेगी।

एलसीसी ने गुरुवार को एक बयान में कहा, "यह घटना जो क्रिकेट जगत में चर्चा का विषय रही है। आचार संहिता का उल्लंघन है और लीग की आचार संहिता और आचार समिति द्वारा बताए गए स्पष्ट नियमों का उल्लंघन करने वाले सभी लोगों के खिलाफ आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।"

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;