भारत-द. अफ्रीका टेस्ट : शार्दूल ने मेजबान टीम की भी पहली पारी को सस्ते में निपटाया, दूसरी पारी में भारत ने हासिल की बढ़त

भारत-दक्षिण अफ्रीका के बीच जोहानसबर्ग में खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच में मेजबान टीम की पहली पारी भी सस्ते में निपट गई। इसके बाद भारत ने अपनी दूसरी पारी में पुजारा और अजिंक्य रहाणे की पारी की बदौलत बढ़त बना ली है।

फोटो @ICC
फोटो @ICC
user

आईएएनएस

भारत ने मंगलवार को यहां वांडरर्स स्टेडियम में दूसरे टेस्ट मैच की दूसरी पारी में 20 ओवरों में दो विकेट खोकर 85 रन बनाए, जिससे दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ उसे 58 रनों की लीड मिल गई है। इससे पहले, शार्दुल (7/61) की बेहतरीन गेंदबाजी के कारण भारतीय टीम ने मेजबान टीम को 229 रनों पर रोक दिया था, लेकिन अफ्रीका की टीम भारत के खिलाफ 27 रनों की बढ़त लेने में सफल रही थी।

जवाब में भारत की दूसरी पारी की शुरुआत ठीक ठाक रही। सलामी बल्लेबाज कप्तान केएल राहुल और मयंक अग्रवाल ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए अफ्रीका की बढ़त को जल्द ही बराबर कर दिया। लेकिन इस दौरान, मार्को जेनसेन की गेंद पर राहुल (8) रन बनाकर आउट हो गए। इसके बाद आए चेतेश्व पुजारा और मयंक ने जबरदस्त बल्लेबाजी की और भारत के स्कोर को तेजी से आगे बढ़ाया।

इस बीच, डुआने ओलिवर की गेंद पर मंयक (23) रन बनाकर पवेलियन लौट गए। चौथे नंबर पर आए अजिंक्य रहाणे ने पुजारा के साथ मिलकर कई अच्छे शॉट लगाए, जिससे दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक भारत का स्कोर 85/2 हो गया, इसी के साथ भारत ने दक्षिण अफ्रीका पर 58 रनों की बढ़त बना ली है। वहीं, पुजारा (35) और रहाणे (11) रन बनाकर क्रीज पर मौजूद हैं। दोनों के बीच 52 गेंदों में 41 रनों की साझेदारी हो चुकी है।

इससे पहले, भारत ने चाय तक दक्षिण अफ्रीका के 191 रनों पर 7 विकेट गिरा दिए थे। लंच के बाद 102/4 से आगे खेलते हुए दक्षिण अफ्रीका ने 89 रन जोड़े और दूसरे दिन के दूसरे सत्र तक तीन विकेट खो दिए, जिससे वह भारत से 11 रन पीछे थे। चाय से पहले अफ्रीकी बल्लेबाज टेम्बा बावुमा और काइल वेरेन के बीच हो रही साझेदारी को शार्दुल ने तोड़ा, जब उन्होंने वेनेन को 21 रनों पर आउट करके पवेलियन भेज दिया।

हालांकि, इस दौरान बावुमा ने ठाकुर की गेंद पर चौका लगाकर अपना 17वां टेस्ट अर्धशतक पूरा किया। लेकिन वह अपनी पारी को अधिक समय तक नहीं चला सके और अगली ही गेंद पर आउट हो गए, इसी के साथ ठाकुर ने पहली बार टेस्ट करियर में पांच विकेट अपने नाम किए। इसके बाद आए कगिसो रबाडा भी कुछ कमाल नहीं कर सके और शमी की गेंद पर बिना खाता खोले ही आउट हो गए। हालांकि, चाय तक केशव महाराज 11 और मार्को जेनसेन 2 रन बनाकर नाबाद रहे।


लेकिन अंतिम सत्र में 191/7 आगे खेलते हुए दक्षिण अफ्रीका ने मजबूत वापसी की और महाराज और जेनसेन अच्छी बल्लेबाजी की, जिससे दक्षिण अफ्रीका को बढ़त लेने में आसानी हुई। लेकिन जल्द ही महाराज (21) और जेनसेन (21) रन बनाकर आउट हो गए, इस तरह प्रोटियाज की टीम 229 रनों पर ऑल आउट हो गई और उन्होंने भारत के खिलाफ 27 रनों की बढ़त बना ली।

शार्दुल (7/61) का दक्षिण अफ्रीका में किसी भी भारतीय गेंदबाज द्वारा अब तक का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी रिकॉर्ड है, जिसके लिए उन्हें पवेलियन वापस जाते समय सहयोगी स्टाफ और भारतीय कोचों से स्टैंडिंग ओवेशन दिया।

संक्षिप्त स्कोर :

भारत 202, दूसरी पारी में 20 ओवरों में 85/2 (चेतेश्वर पुजारा 35 नाबाद, मयंक अग्रवाल 23, मार्को जेनसेन 1/18, डुआने ओलिवर 1/22) दक्षिण अफ्रीका 79.4 ओवर में 229/10 (कीगन पीटरसन 62, टेम्बा बावुमा 51, शार्दुल ठाकुर 7/61, मोहम्मद शमी 2/52)।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia