T20 World Cup: वेस्टइंडीज-बांग्लादेश के बीच आज करो या मरो का मुकाबला, सेमीफाइनल की दौड़ में बने रहने के लिए होगी जंग!

टी20 विश्वकप में होने वाले आज के मैच में हारने वाली टीम की सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीदें लगभग खत्म हो जाएंगी। ऐसे में वेस्टइंडीज और बांग्लादेश दोनों टीमों को सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीदें जीवंत रखने के लिये आज जीत की दरकार है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

टी20 विश्व कप के सुपर-12 के एक मैच में आज मौजूदा चैंपियन वेस्टइंडीज और बांग्लादेश आमने सामने होंगे। ये मैच दोपहर 3.30 बजे से शुरू होगा। दोनों टीमों के लिए यह मैच करो या मरो जैसा होगा, इसमें हारने वाली टीम की सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीदें लगभग खत्म हो जाएंगी। एक ओर जहां टूर्नामेंट में वेस्टइंडीज को इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका से हार का सामना करना पड़ा था, वहीं बांग्लादेश को इंग्लैंड और श्रीलंका ने पराजित किया। ऐसे में सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीदें जीवंत रखने के लिये इन दोनों टीमों को अब जीत की दरकार है।

वेस्टइंडीज को बल्लेबाजी की अपनी कमजोरियों को दूर करने की जरूरत है। इंग्लैंड के खिलाफ उसकी टीम केवल 55 रन पर ढेर हो गई थी। उसके सभी बल्लेबाजों ने अपने विकेट इनाम में दिए। उन्होंने धीमी पिच पर एक दो रन चुराने के बजाय बड़े शॉट खेलने पर ध्यान दिया। दो बार के चैंपियन ने इसके बाद दूसरे मैच में अपना रवैया थोड़ा बदला। लेंडल सिमंस को पारी संवारने का जिम्मा दिया। हालांकि, उन्होंने बहुत ही धीमी पारी खेली। उन्होंने 35 गेंद पर 16 रन बनाए। इससे टीम पर दबाव बढ़ा। इस कारण एविन लुईस जैसे अन्य बल्लेबाजों को जोखिम भरे शॉट खेलकर अपने विकेट गंवाने पड़े।

वेस्टइंडीज ने 11वें से 20वें ओवर के बीच 64 रन के अंदर आठ विकेट गंवाए और बड़ा स्कोर बनाने में नाकाम रहा। अगले मैच में सिमंस की जगह रोस्टन चेज को लिया जा सकता है। चेज ने अफगानिस्तान के खिलाफ अभ्यास मैच में नाबाद 54 रन बनाए थे। वह उपयोगी गेंदबाज भी हैं। वह स्पिन विभाग में टीम को विकल्प मुहैया करा सकते हैं। जेसन होल्डर के टीम से जुड़ने से वेस्टइंडीज को मजबूती मिली है। होल्डर ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में बल्ले और गेंद दोनों से अच्छा प्रदर्शन किया था। यूएई की परिस्थितियां हालांकि वेस्टइंडीज के ‘बिग हिटर’ के अनुकूल नहीं हैं। वेस्टइंडीज ने यूएई में पिछले सात मैच खेले हैं उनमें उसे जीत नहीं मिली है। इनमें टूर्नामेंट से पहले के दोनों अभ्यास मैच भी शामिल हैं।

दूसरी तरफ बांग्लादेश इस तरह के विकेट्स पर खेलने का आदी है। हालांकि, वह अब तक इसका फायदा उठाने में नाकाम रहा है। न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया जैसी टीमों को हराकर टूर्नामेंट में छठे रैंकिंग की टीम के रूप में प्रवेश करने वाली बांग्लादेश की टीम के प्रदर्शन में निरंतरता का अभाव रहा है। वह अपने पिछले पांच में से दो मैच ही जीत पाया है। मोहम्मद नईम, लिटन दास, शाकिब अल हसन, महमूदुल्लाह और मुशफिकुर रहीम के रूप में बांग्लादेश के पास प्रतिभाशाली बल्लेबाज हैं, लेकिन वे सामूहिक योगदान देने में असफल रहे हैं। उसकी गेंदबाजी में अनुशासन की कमी दिखी। उन्हें बेहतर प्रदर्शन करने की जरूरत है। वेस्टइंडीज के खिलाफ उसके स्पिनर्स की भूमिका अहम होगी।

टीमें इस प्रकार हैं :

वेस्टइंडीज: कीरोन पोलार्ड (कप्तान), निकोलस पूरण, ड्वेन ब्रावो, रोस्टन चेज, आंद्रे फ्लेचर, क्रिस गेल, शिमरोन हेटमायर, एविन लुईस, जैसन होल्डर, लेंडल सिमंस, रवि रामपॉल, आंद्रे रसेल, ओशेन थॉमस, हेडन वॉल्श जूनियर, अकील हुसैन।

बांग्लादेश: महमूदुल्लाह (कप्तान), लिटन दास, मोहम्मद नईम, महेदी हसन, शाकिब अल हसन, सौम्य सरकार, मुशफिकुर रहीम, नूरुल हसन, अफीफ हुसैन, नसुम अहमद, तस्कीन अहमद, शमीम हुसैन, मुस्तफिजुर रहमान, मोहम्मद सैफुद्दीन और शोरफुल इस्लाम।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia