एमएस धोनी ने इस वजह से लिया था अचानक संन्यास, सामने आया चौंकाने वाला सच!

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने के बावजूद, पूर्व कप्तान आईपीएल फ्रेंचाइजी चेन्नई सुपर किंग्स के लिए एक सक्रिय खिलाड़ी बने हुए हैं और उन्होंने 2023 में अपनी टीम को 5वें खिताब तक पहुंचाया।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

पूर्व भारतीय क्रिकेट कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने के कई वर्षों के बाद यह खुलासा किया है कि आखिरी उन्होंने ये फैसला क्यों किया। धोनी ने अपने फैसले के बारे में जानकारी साझा करते हुए कहा है कि 2019 विश्व कप सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड से भारत की हार के बाद उन्होंने यह फैसला कर लिया था कि यह नीली जर्सी में उनका आखिरी मैच होगा।

2019 विश्व कप में भारत के सेमीफाइनल से बाहर होने के बाद 13 महीनों में धोनी क्रिकेट के क्षेत्र से दूर रहे और फिर 15 अगस्त, 2020 को संन्यास का ऐलान किया।

बेंगलुरु में एक कार्यक्रम में बोलते हुए, धोनी ने खुलासा किया कि सेमीफाइनल के बाद उन्होंने फैसला किया कि यह भारत के लिए उनका आखिरी मैच था। उन्होंने कहा, "जब आप एक करीबी मैच हार जाते हैं तो अपनी भावनाओं को नियंत्रित करना मुश्किल हो जाता है। मेरे लिए, वह आखिरी दिन था जब मैंने भारत के लिए क्रिकेट खेला। मैंने एक साल बाद संन्यास लिया, लेकिन तथ्य यह है कि उस दिन मैं सेवानिवृत्त हो चुका था।''


अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने के बावजूद, पूर्व कप्तान आईपीएल फ्रेंचाइजी चेन्नई सुपर किंग्स के लिए एक सक्रिय खिलाड़ी बने हुए हैं और उन्होंने 2023 में अपनी टीम को 5वें खिताब तक पहुंचाया। इतना ही नहीं उन्होंने फैंस से वादा किया था कि वह आईपीएल 2024 में वापसी करेंगे।

सीएसके द्वारा अपना पांचवां आईपीएल खिताब जीतने के बाद, धोनी ने अपने घुटने की सर्जरी करवाई। हालांकि, उनका आईपीएल 2024 में भाग लेना उनके फिटनेस पर निर्भर करता है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


/* */