दिल्ली में थाने पर विदेशी नागरिकों के हमले में 53 गिरफ्तार, साथी की मौत पर भड़के नाइजीरियाई लोगों ने किया था बवाल

अधिकारियों ने बताया कि पुलिस पर हमला करने के लिए नाइजीरियाई नागरिक लाठी-डंडे लेकर आए थे। सभी आरोपित दंगाइयों को अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें पुलिस हिरासत में भेज दिया गया। पुलिस सूत्रों ने कहा कि मामले में आगे की जांच जारी है।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

दिल्ली पुलिस ने राजधानी में एक पुलिस थाने पर हमला करने के आरोप में 53 विदेशी नागरिकों को गिरफ्तार किया है। जानकारी के अनुसार सोमवार को अपने साथी की मौत के बाद नाइजीरियाई मूल के विदेशी नागरिकों की गुस्साई भीड़ ने द्वारका जिले के मोहन गार्डन थाने पर हमला कर दिया था।

यह घटना तब हुई जब सोमवार को एक नाइजीरियाई नागरिक को स्थानीय अस्पताल में मृत लाया गया। शव लेकर आए नाइजीरियाई लोगों ने अस्पताल के कर्मचारियों पर लापरवाही का आरोप लगाया। हालांकि, अस्पताल ने आरोपों से इनकार किया और कहा कि नाइजीरियाई नागरिक को मृत लाया गया था। इसके बाद अपने साथी नागरिक की मौत से नाराज नाइजीरियाई लोगों ने मेडिकल जांच की नियमित पुलिस प्रक्रिया पर आपत्ति जताई और वहां मौजूद अधिकारियों के साथ उनकी मौखिक बहस हुई।


मिली जानकारी के अनुसार इसके तुरंत बाद, लगभग 50-100 विदेशी नागरिक मोहन गार्डन पुलिस स्टेशन के बाहर जमा हो गए और हंगामे के साथ तोड़फोड़ करने लगे। इस दौरान एक एएसआई समेत तीन पुलिसकर्मी घायल हो गए। घटना के समय आठ नाइजीरियाई लोगों को वहां गिरफ्तार किया गया था, जबकि बाकी भागने में सफल रहे थे। इसके बाद पुलिस ने सभी आरोपियों की तलाश में छापेमारी की और अब तक 53 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

अधिकारियों ने बताया कि पुलिस पर हमला करने के लिए नाइजीरियाई नागरिक लाठी-डंडे लेकर आए थे। सभी आरोपित दंगाइयों को अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें पुलिस हिरासत में भेज दिया गया। पुलिस सूत्रों ने कहा कि मामले में आगे की जांच जारी है।

गौरतलब है कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और उसके आसपास रहने वाले कुछ अफ्रीकी नागरिक मादक पदार्थो के अवैध व्यापार में शामिल हैं और उन्हें नियमित रूप से पुलिस द्वारा पकड़ा भी जाता रहा है। एक आधिकारिक सूत्र ने कहा, "हम इस तरह की गतिविधियों में शामिल सभी संदिग्ध लोगों पर कड़ी नजर रख रहे हैं।"

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia