गाजियाबाद में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़, 6 बदमाश गिरफ्तार

दिल्ली-मेरठ मार्ग से बैंक कॉलोनी के पास एक सप्ताह पहले बॉल रोग विशेषज्ञ डॉक्टर श्याम सिंह से लूट का प्रयास करते वाले बदमाशों और पुलिस के बीच संजयपुरी तिराहे के पास मुठभेड हो गई। पुलिस ने चार बदमाशों को गिरफ्तार किया है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

 गाजियाबाद पुलिस और बदमाशों के बीच शुक्रवार की देर रात मुठभेड़ हुई है। दो अलग-अलग इलाकों में हुई मुठभेड़ में छह बदमाश पुलिस की गिरफ्त में आए हैं। जिनमें से चार बदमाश मुठभेड़ के दौरान गोली लगने से घायल हुए हैं।

पहले मामले में गाजियाबाद के थाना शालीमार गार्डन क्षेत्र में दो लुटेरों के साथ पुलिस की मुठभेड़ हो गई। पुलिस चेकिंग के दौरान लुटेरों ने पुलिस पर जान से मारने की नीयत से फायर किया तो जवाबी कार्रवाई में दोनों बदमाशों के पैर में गोली लगी। दोनों बदमाश महिलाओं से लूटपाट करते थे। पूरे दिल्ली एनसीआर क्षेत्र में इनका आतंक था। बदमाशों के कब्जे से पुलिस ने लूटी गई चेन, तमंचा, कारतूस, मोटरसाइकिल और मोबाइल बरामद की।

एसीपी शालीमार गार्डन सिद्धार्थ गौतम ने बताया कि पुलिस चेकिंग कर रही थी। इसी दौरान एक मोटरसाइकिल पर दो व्यक्ति हिंडन एयरफोर्स बेस की तरफ से आते दिखाई दिए। पुलिस को देखकर बाइक पर सवार दोनों लोग मोटरसाइकिल को घुमा कर भागने लगे। इस दौरान मोटरसाइकिल पेड़ से टकरा गई और दोनों नीचे गिर गए। पुलिस ने जब उनको घेरना चाहा तो बाइक चला रहे बदमाश ने पुलिस पर फायरिंग कर दी। पुलिस की जवाबी फायरिंग में बाइक पर सवार दोनों बदमाश को गोली लग गई।

पुलिस पूछताछ में पता चला है कि घायल दोनों बदमाश आदिल और संजय हैं। दोनों ही शहीद नगर साहिबाबाद के रहने वाले हैं। इनके कब्जे से मोबाइल, दो चेन, तमंचा और मोटरसाइकिल बरामद हुई है। दोनों बदमाश दिल्ली एनसीआर क्षेत्र में लूटपाट किया करते थे। इन पर आधा दर्जन से अधिक मुकदमे दर्ज हैं।


दूसरे मामले में गाजियाबाद में दिल्ली-मेरठ मार्ग से बैंक कॉलोनी के पास एक सप्ताह पहले बॉल रोग विशेषज्ञ डॉक्टर श्याम सिंह से लूट का प्रयास करते वाले बदमाशों और पुलिस के बीच संजयपुरी तिराहे के पास मुठभेड हो गई। पुलिस ने चार बदमाशों को गिरफ्तार किया है। पैर में गोली लगने से दो बदमाश घायल हो गए हैं। उन्हें सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

एसीपी मोदीनगर ज्ञान प्रकाश राय ने बताया कि देर रात एक बजे के आसपास संजयपुरी तिराहे के पास चेकिंग की जा रही थी। तभी, सामने से दो बाइक सवार चार व्यक्ति एक अपाचे और एक होंडा साइन पर आते हुए दिखाई दिए। जब पुलिस ने उन्हें रुकने को कहा तो वह निवाड़ी रोड की तरफ भागने लगे। चेकिंग कर रही पुलिस टीम द्वारा अपनी दूसरी पुलिस टीम, जो निवाड़ी रोड पर चेकिंग कर रही थी, को सूचना दी गई। उन्हें बुदाना रोड पर सामने से घेर लिया गया। अपने को घिरता देख बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी। जवाबी कार्रवाई में दो बदमाशों के पैर में गोली लगी। मौके से चारों बदमाशों को आवश्यक बल प्रयोग कर गिरफ्तार कर लिया गया।

पुलिस पूछताछ में बदमाशों ने अपना नाम सुमित, आकिब, प्रिंस और देवेन्द्र बताया है। विजय नगर निवासी प्रिंस और देवेन्द्र पैर में गोली लगने से घायल हुए हैं। सुमित ने ही डॉक्टर से लूट की योजना बनाई। सुमित डॉक्टर की क्लीनिक पर काम कर चुका था। उसने ही अपने साथियों को बताया कि जब डॉक्टर क्लीनिक से घर जाते हैं तो उनके पास काफी पैसे होते हैं। प्रिंस और देवेन्द्र गली के बाहर खड़े होकर इंतजार कर रहे थे। जैसे ही डॉक्टर बाहर निकले तो इन दोनों ने पिस्टल दिखाकर लूट करने का प्रयास किया।

प्रिंस के खिलाफ पूर्व में गौतमबुद्धनगर में चोरी एवं थाना क्रासिंग रिपब्लिक में एक हत्या का मुकदमा दर्ज है। देवेन्द्र के खिलाफ एक दुष्कर्म का मुकदमा थाना कविनगर में दर्ज है। मौके से घटना में प्रयुक्त दो बाइक, एक पिस्टल और एक तमंचा बरामद हुआ है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;