BHU में बीटेक छात्रा से गैंगरेप के तीनों आरोपी BJP से जुड़े निकले, 60 दिन बाद गिरफ्तारी पर कांग्रेस ने उठाया सवाल

पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में 1 नवंबर की देर रात आईआईटी बीएचयू की छात्रा से गैंगरेप हुआ था। आधी रात को लड़की अपने एक दोस्त के साथ टहल रही थी तभी बाइक सवार तीन युवकों ने बंदूक के दम पर सनसनीखेज दरिंदगी को अंजाम दिया था।

BHU में बीटेक छात्रा से गैंगरेप के तीनों आरोपी BJP से जुड़े निकले
BHU में बीटेक छात्रा से गैंगरेप के तीनों आरोपी BJP से जुड़े निकले
user

नवजीवन डेस्क

करीब दो महीने पहले बीएचयू परिसर में आईआईटी बीएचयू की एक बीटेक छात्रा से बंदूक के दम पर गैंगरेप मामले के तीनों आरोपी आखिरकार गिरफ्तार हो गए हैं। तीनों आरोपी कुणाल पांडे, सक्षम पटेल और आनंद उर्फ अभिषेक चौहान बीजेपी से जुड़े निकले हैं और बीजेपी आईटी सेल के पदाधिकारी थे। कांग्रेस ने उनकी गिरफ्तारी में देरी पर सवाल उठाया है।

ट्विटर समेत तमाम सोशल मीडिया पर दो आरोपी कुणाल पांडे और सक्षम पटेल के बीजेपी आईटी सेल से जुड़े होने का पुख्ता सबूत भी वायरल हो रहे हैं। सोशल मीडिया पर 20 अगस्त 2021 का एक लेटर वायरल हो रहा है, जिसे खुद कुणाल पांडे ने सोशल मीडिया पर डाला था। ये बीजेपी वाराणसी के लेटरहेड पर आईटी सेल के कार्यकर्ताओं की लिस्ट है। इसमें कुणाल पांडे को महानगर वाराणसी आईटी सेल का संयोजक बताया गया है। इस लेटर हेड पर उसने खुद साइन किया हुआ है। जबकि सक्षम पटेल सह संयोजक के रूप में है।

कांग्रेस ने इस मामले में गिरफ्तारी में देरी पर सवाल उठाया है। कांग्रेस ने कहा कि 2 महीने पहले बीएचयू कैम्पस में एक छात्रा का गैंगरेप हुआ। इस मामले को पहले दबाने की कोशिश की गई, जब दबाव बना तो जैसे-तैसे यूपी पुलिस ने एफआईआर लिखी। अब 60 दिन बाद इस घटना में शामिल 3 लोग पकड़े गए हैं। ये सभी बीजेपी के पदाधिकारी हैं। गिरफ़्तारी में देरी शायद इसी वजह से हुई होगी। कांग्रेस ने कहा कि ये सभी बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं के बेहद करीबी हैं। बीजेपी में इतनी अच्छी पकड़ है कि पीएम मोदी से सीधे मिलते हैं। बीजेपी आईटी सेल में अच्छी पोजिशन पर हैं। यही है बीजेपी का चाल चरित्र चेहरा।


आईआईटी बीएचयू में बीटेक छात्रा से गैंगरेप के तीनों आरोपियों कुणाल पांडे, अभिषेक चौहान और सक्षम पटेल की 30 दिसंबर की रात चेकिंग के दौरान गिरफ्तारी हुई है। सभी आरोपी वाराणसी के रहने वाले हैं और पुलिस ने घटना में इस्तेमाल बुलेट भी बरामद कर ली है। इनका एक सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया है जिसमें तीनों बुलेट पर बैठे हुए हैं। घटना वाले दिन ये तीनों इसी बुलेट से आईआईटी कैंपस में घुसे थे और आधी रात में दोस्त के साथ टहल रही लड़की को बंधक बनाकर उसके साथ गैंगरेप किया था। घटना के दौरान आरोपियों ने लड़की का वीडियो भी बना लिया था।

बता दें कि 1 और 2 नवंबर की रात को पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में आईआईटी बीएचयू की छात्रा से गैंगरेप हुआ था। आधी रात को लड़की अपने दोस्त के साथ टहल रही थी तभी बाइक सवार तीन युवकों ने सनसनीखेज दरिंदगी को अंजाम दिया था। करीब आधे घंटे तक आईआईटी की छात्रा को बाइक सवार युवकों ने बंदूक के दम पर निर्वस्त्र करके उसके साथ पहले अभद्रता की थी और फिर उसके साथ गैंगरेप किया था। हथियार के बल पर पहले तीनों ने लड़की के दोस्त को बंधक बना लिया थी और उसकी जमकर पिटाई भी की थी।


इस मामले में लड़की ने मैजिस्ट्रेट के सामने बयान दिया था, जिसके बाद 8 नवंबर की रात में वाराणसी पुलिस ने छेड़छाड़ वाले मामले में गैंगरेप और बंधक बनाने की धारा जोड़ी। घटना की अगली सुबह 2 नवंबर को बीएचयू के छात्रों में इस दरिंदगी की खबर आग की तरह फैल गई थी, जिसके बाद हजारों छात्र सड़क पर उतर आए थे और कैंपस में प्रदर्शन पर बैठ गए थे। बाद में पुलिस की ओर से कार्रवाई का भरोसा दिए जाने के बाद छात्रों ने अपना धरना खत्म किया था।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;