ग्रेटर नोएडा में पकड़ी गई एक और ड्रग्स फैक्ट्री, करीब 20 किलो ड्रग्स बरामद, कीमत 200 करोड़ रुपये

इससे पहले भी ग्रेटर नोएडा में 17 मई को ड्रग्स फैक्ट्री पकड़ी गई थी, जिसमें पकड़े गए आरोपी के खुलासे पर पुलिस ने आज ओमेगा स्थित जज सोसायटी में छापेमारी कर ड्रग्स फैक्ट्री पकड़ी है। पुलिस ने मौके से दो विदेशी नागरिकों को गिरफ्तार किया है।

ग्रेटर नोएडा में आज एक और ड्रग्स फैक्ट्री पकड़ी गई
ग्रेटर नोएडा में आज एक और ड्रग्स फैक्ट्री पकड़ी गई
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में एक और ड्रग्स फैक्ट्री पकड़ी गई है। एक मकान के अंदर यह ड्रग्स फैक्ट्री चलाई जा रही थी और बताया जा रहा है कि यहां से करीब 20 किलो ड्रग्स बरामद हुए हैं। जिसकी कीमत इंटरनेशनल मार्केट में करीब 200 करोड़ के आसपास बताई जा रही है। फिलहाल पुलिस अभी मामले की जांच कर रही है और कुछ भी कहने से बचती नजर आ रही है।

इससे पहले भी ग्रेटर नोएडा में 17 मई को ड्रग्स फैक्ट्री पकड़ी गई थी। जिसमें पकड़े गए आरोपित ने पुलिस पूछताछ में कई खुलासे किए थे। इन्हीं खुलासों की मदद से पुलिस ने आज छापेमारी की और एक अन्य ड्रग्स फैक्ट्री पकड़ी है। शहर के पॉश सेक्टर ओमेगा स्थित जज सोसायटी में विदेशी नागरिक ड्रग्स फैक्ट्री चला रहे थे। पुलिस ने मौके से दो विदेशी नागरिकों की गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस को मौके पर ड्रग्स फैक्ट्री चलती हुई मिली है और 20 किलो से अधिक की ड्रग्स बरामद हुई है।


पूर्व में सूरजपुर में पकड़ी गई ड्रग्स फैक्ट्री के मामले में जेल गए आरोपित चिड़ी को रिमांड पर लेकर पुलिस ने पूछताछ शुरू की थी। इसी पूछताछ में पता चला कि ग्रेटर नोएडा में एक और ड्रग्स फैक्ट्री चल रही है, इसी आधार पर पुलिस ने छापेमारी कर दूसरी ड्रग्स फैक्ट्री पकड़ी है। एडिशनल डीसीपी ग्रेटर नोएडा अशोक कुमार ने बताया कि रिमांड पर लाए गए विदेशी नागरिक से पूछताछ के दौरान दूसरी फैक्ट्री की जानकारी मिली। मौके पर छापेमारी की जा रही है।

उन्होंने कहा कि आशंका है कि यह फैक्ट्री भी करीब 1 साल से संचालित हो रही थी। यहां से ड्रग्स की सप्लाई विदेश में भी होती थी। सबसे बड़ी बात यह है कि ग्रेटर नोएडा पूरे तरीके से इंस्टीट्यूशनल हब के रूप में जाना जाता है। इसके साथ-साथ आसपास के इलाकों में भी कई मल्टीनेशनल कंपनियां हैं जिनमें बड़ी संख्या में लोग काम करते हैं। फिलहाल पुलिस इस पूरी चेन को पकड़ने की कोशिश कर रही है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;