योगी के शपथ ग्रहण से पहले PM मोदी के संसदीय क्षेत्र में व्यापारी से दिनदहाड़े 8 लाख की लूट, कानून व्यवस्था की खुली कलई

24 घंटे बीत जाने के बाद भी पुलिस के हाथ खाली हैं। इस मामले में पुलिस अभी तक कोई भी गिरफ्तारी नहीं कर पाई है। वाराणसी के चौक थाने में मामला दर्ज किया गया है। इस मामले की जांच कर रहे चौक थाने के एसओ शिवकांत मिश्रा से 'नवजीवन' की टीम ने बात की।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

हैदर अली खान

योगी आदित्यनाथ आज शाम 4 बजे लखनऊ में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में दूसरी बार शपथ लेंगे। उनके शपथ ग्रहण से ठीक पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में कानून व्यवस्था की एक बार फिर कलई खुल गई है। वाराणसी के चौक थाना इलाके में दिनदहाड़े बदमाशों ने एक किराना व्यापारी से 8 लाख रुपये लूट लिए। लूट को अंजाम देने वाले बदमाशों ने खुद पुलिस बताया और चेकिंग के नाम पर उन्होंने लूट की वारदात को अंजाम दिया।

यह घटना गुरुवार सुबह करीब 10 बजे की है। 24 घंटे बीत जाने के बाद भी पुलिस के हाथ खाली हैं। इस मामले में पुलिस अभी तक कोई भी गिरफ्तारी नहीं कर पाई है। वाराणसी के चौक थाने में मामला दर्ज किया गया है। इस मामले की जांच कर रहे चौक थाने के एसओ शिवकांत मिश्रा से 'नवजीवन' की टीम ने बात की। एसओ शिवकांत मिश्रा ने बताया कि केस दर्ज करने के बाद सीसीटीवी फुटेज के आधार पर मामले की जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि सीसीटीवी में कुछ संदिग्ध दिखे हैं। उनकी तलाश की जा रही है। घटना के बाद से ही पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज खंगाले शुरू कर दिए थे। गुरुवार को ही सीसीटीवी के आधार पर कुछ संदिग्धों की तस्वीरें सामने आई थीं। वारदात को 24 घंटे बीत जाने के बाद भी मामला इससे आगे फिलहाल नहीं बढ़ पाया है।


जिस व्यापारी से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में दिनदहाड़े लूट हुई है। उस व्यापारी का नाम तबरेज है। 'नवजीवन' की टीम ने पीड़ित व्यापारी से बात की। पीड़ित व्यापारी तबरेज ने बताया कि वह गाजीपुर जिले के दिलदारनगर बाजार में किराने की दुकान चलाते हैं। उन्होंने बताया कि वह सामान खरीदने और भुगतान करने के लिए वाराणसी गए थे। पीड़ित व्यापारी के मुताबिक, उनके पास 14 लाख रुपये थे। पैसे को वाराणसी में व्यापारियों को देना था। उन्होंने बताया कि पहले उन्होंने गोला दीनानाथ में एक व्यापारी को 5 लाख रुपये का भुगतान किया। भुगतान के बाद वह यहां से कपिल चौरा पहुंचे। पीड़ित ने बताया कि यहां से जैसे ही वह ऑटो से कुछ दूरी आगे बढ़े कुछ लोग पीछे से दौड़ते हुए आए और उन्होंने कहा कि हम पुलिस वालें है और हमे सूचना मिली है कि आपके पास अवैध हथियार है। ये बदमाश खुद को पुलिस बताकर तबरे की जांच करने लगे। इस दौरान वहां मौजूद दूसरे बदमाशों ने व्यापारी तबरेज को पीटना शुरू कर दिया और बैग में रखे 8 लाख रुपये लूट कर फरार हो गए।

पीड़ित व्यापारी ने बताया कि जब तक वह कुछ समझ पाए तब तक बदमाश लूट की वारदात को अंजाम देकर फरार हो गए। इसके बाद व्यापारी ने पुलिस से संपर्क किया और थाने पहुंचे। पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र में दिनदहाड़े इतनी बड़ी लूट की सूचना मिलते ही पुलिस के हाथपांव फूल गए। पुलिस ने तुरंत केस दर्ज किया और मामले की जांच शुरू की।


चुस्त-दुरुस्त कानून व्यवस्था के दम पर योगी आदित्यनाथ ने विधानसभा चुनाव लड़ा। चुनावी सभाओं में वह लगातार कानून व्यवस्था का जिक्र करते रहे। पूर्वाचंल में कानून व्यवस्था की हालत कैसी है। किसी से छिपी नहीं। जब पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र में दिनदहाड़े इतनी बड़ी लूट की वारदात को बदमाश अंजाम दे सकते हैं तो आप अंदाजा लगा सकते है कि राज्य के अन्य हिस्सों का क्या हाल होगा। कथित ‘बुलडोजर बाबा’ से अपराधी-बदमाश कितना खौफ खाते हैं। इस घटना से आप सहज ही अंदाजा लगा सकते हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia