बिहार की लड़की महाराष्ट्र के पालघर में ट्रेन में मिली मृत, हत्या, आत्महत्या या दुर्घटना अभी साफ नहीं

यात्रियों के अनुसार लड़की शौचालय में गई थी, लेकिन काफी देर तक बाहर नहीं आई तो उन्होंने टीटीई को बुलाया, पर दरवाजा अंदर से बंद होने के कारण नहीं खुला। ट्रेन रुकने पर रेलवे कर्मचारियों ने जब दरवाजा खोला तो लड़की को गले में एक कपड़े के साथ फर्श पर पड़ा पाया।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

पश्चिम रेलवे के एक अधिकारी ने रविवार को बताया कि बिहार की एक युवती का शव पालघर में स्वराज एक्सप्रेस के एस4 कोच के शौचालय में मिला है। फिलहाल पता नहीं चल पाया है कि यह आत्महत्या थी या हत्या या दुर्घटना और वह अकेले यात्रा कर रही थी या किसी और के साथ थी।

मुंबई-वैष्णोदेवी कटरा (जम्मू) ट्रेन के रविवार सुबह 11 बजे बांद्रा टर्मिनस से रवाना होने के करीब दो घंटे बाद यह घटना हुई। यात्रियों की शिकायत के बाद दोपहर 13.10 बजे ट्रेन को पालघर के दहानू रोड स्टेशन पर रोक दिया गया। सह-यात्रियों ने बताया कि लड़की शौचालय के अंदर गई थी, लेकिन काफी देर तक बाहर नहीं आई, इसलिए उन्होंने ट्रेन में के टीटीई को बुलाया।


टीटीई ने यात्रियों की मदद से वॉशरूम का दरवाजा तोड़ने की कोशिश की, लेकिन वह अंदर से बंद होने के कारण नहीं खुला। ट्रेन के रुकने के बाद रेलवे कर्मचारी दरवाजे की कुंडी खोलने में कामयाब रहे और लड़की को अपने गले में एक कपड़े के साथ फर्श पर पड़ा पाया।

पश्चिम रेलवे के मुख्य प्रवक्ता सुमित ठाकुर ने पुष्टि की कि उसका आधार कार्ड बरामद किया गया है, जिसमें उसकी पहचान 20 साल की आरती कुमार के रुप में हुई है, जो बिहार की रहने वाली थी। शव को दहानू रोड के कॉटेज अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया है और डॉक्टर्स की रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है और पुलिस को आगे की जांच के लिए सूचित कर दिया गया है।


यह फिलहाल पता नहीं चल पाया है कि यह आत्महत्या थी या हत्या या दुर्घटना और वह अकेले यात्रा कर रही थी या किसी और के साथ थी। बाद में, लगभग एक घंटे की देरी के बाद, 12471 स्वराज एक्सप्रेस ट्रेन दहानू रोड स्टेशन से आगे वैष्णो देवी कटरा की यात्रा के लिए रवाना हुई।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia