बिहार: गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंजा सीएम नीतीश का गृह जिला नालंदा, बदमाशों ने की आरजेडी नेता के भाई की हत्या

नालंदा के गोलापुर गांव के मुखिया और आरजेडी नेता सत्येंद्र कुमार उर्फ बबलू यादव के भाई चंदन कुमार रात में अपने घर पर सो रहे थे। रात में बदमाश उनके घर में घुसे और ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दीं। गोली लगने के बाद चंदन कुमार की मौके पर ही मौत हो गई।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

बिहार में जेडीयू और बीजेपी सरकार के राज में बेखौफ बदमाशों का आतंक जारी है। आलम यह है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृह जिले में अपराधी बेखौफ घूम रहे हैं और वारदात को अंजाम दे रहे हैं। नालंदा के दीपनगर थाना इलाके के गोलापुर गांव में घर में घुसकर आरजेडी नेता के भाई की बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर कर दी है।

खबरों के मुताबिक, गोलापुर गांव के मुखिया और आरजेडी नेता सत्येंद्र कुमार उर्फ बबलू यादव के भाई चंदन कुमार रात में अपने घर पर सो रहे थे। रात में बदमाश उनके घर में घुसे। सीधे उनके कमरे में पहुंचे और ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दीं। गोली लगने के बाद चंदन कुमार की मौके पर ही मौत हो गई। वारदात को अंजाम देकर बदमाश मौके से फरार हो गए। गांव में गोलीबारी से सनसनी फैल गई। परिजनों इस बात की सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

नालंदा के एसपी नीलेश कुमार ने बताया, “वारदात रविवार रात को हुई है। चंदन कुमार विद्यार्थी थे और उनका कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं था। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।”

नालंदा में हत्या की यह कोई पहली वारदात नहीं है। नीतीश सरकार के कार्यकाल में अब तक कई घटनाएं नालंदा में सामने आ चुकी हैं। इससे पहले 9 सितंबर को नालंदा के हिलसा थाना क्षेत्र के मलावा गांव में एक महिला की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इस मामले की भी पुलिस जांच कर रही है।

16 सितंबर को बिंद थाना क्षेत्र के मदनचक गांव में बदमाशों ने एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी थी। यह युवक 15 दिन पहले ही अपहरण के मामले में जेल से छूट कर घर आया था। सुबह करीब 4 बजे वह अपने खेत की ओर जा रहा था तभी बदमाशों ने उसके ऊपर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी थी, जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई थी।

Published: 7 Oct 2019, 12:37 PM
लोकप्रिय