मध्य प्रदेश में किशोरी से 9 लोगों ने की हैवानियत, जिससे मदद मांगी उसी ने हवस का बनाया शिकार

मध्य प्रदेश के उमरिया जिले में किशोरी 11 जनवरी को घर से सब्जी मंडी गई थी। इसी दौरान उसकी दो युवकों से मुलाकात हुई, यह युवक किशोरी को बहला-फुसला कर घुमाने भरौला और छटन के जंगल की ओर ले गए। उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया और फिर उसे एक ढाबा में बंधक बनाकर रखा

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

विनय कुमार

मध्य प्रदेश के उमरिया जिले में एक किशोरी के साथ हैवानियत की रूह कंपा देने वाली वारदात सामने आई है। किशोरी को पहले मनचलों ने अपनी हवस का शिकार बनाया, अपनों को सौंपा और इन दरिंदों के चंगुल से छूटी किशोरी ने जिससे मदद की उम्मीद की, उसी ने अपनी हवस का शिकार बना डाला। पुलिस ने इस मामले में आठ लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार नगर की किशोरी 11 जनवरी को घर से सब्जी मंडी गई। इसी दौरान उसकी दो युवकों से मुलाकात हुई, यह युवक किशोरी को बहला-फुसला कर घुमाने भरौला और छटन के जंगल की ओर ले गए। उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया और फिर उसे एक ढाबा में बंधक बनाकर रखा, अपने साथियों को सौंपा और यहां भी इसके साथ कई लोगों ने दुष्कर्म किया।


लड़की ने पुलिस को जो ब्यौरा दिया है उसके अनुसार आरोपियों से उसने मिन्नतें की तो आरोपियों ने उसे कटनी जाने के लिए ट्रक में बैठा दिया। ट्रक चालक ने भी उसे अपनी हवस का शिकार बनाया, फिर उसे विलायत कला-बड़वारा के टोल वैरियर पर छोड़ दिया। यहां से किशोरी ने उमरिया जाने के लिए ट्रक का सहारा लिया तो इस ट्रक के चालक ने भी उसकी बेवसी का लाभ उठाया और हवस का शिकार बनाया और उसे उमरिया छोड़कर भाग गया। कुल मिलाकर किशोरी को 9 लोगो ने अपनी हवस का शिकार बनाया।


पुलिस को किशोरी ने यह भी बताया है कि उसके साथ आकाश नामक युवक ने चार जनवरी को भी दुष्कर्म किया था। आकाश के कई साथी भी थे जिन्होंने उससे सामूहिक दुष्कर्म किया था।

उमरिया के पुलिस अधीक्षक विकास शाहवाल ने आईएएनएस को बताया है कि दुष्कर्म के दो प्रकरण दर्ज किए गए हैं। इन मामलों में नौ आरोपियों के खिलाफ धारा 376 और पॉक्सो एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज किया गया, आठ आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। एक की तलाश जारी है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia