झारखंडः धनबाद जेल के अंदर गरजी बंदूक, कुख्यात अपराधी अमन सिंह पर गोलियों की बौछार, हुई मौत

वारदात की खबर मिलते ही धनबाद डीसी, एसएसपी समेत तमाम आलाधिकारी जेल पहुंच गए। राज्य पुलिस मुख्यालय ने वारदात की जांच को लेकर राज्य स्तरीय तीन सदस्यीय टीम को धनबाद भेजा है। अमन को जेल में किसने गोली मारी और जेल में हथियार कैसे पहुंचा, इसकी जांच की जा रही है।

धनबाद जेल के अंदर गरजी बंदूक, कुख्यात अपराधी अमन सिंह पर गोलियों की बौछार, हुई मौत
धनबाद जेल के अंदर गरजी बंदूक, कुख्यात अपराधी अमन सिंह पर गोलियों की बौछार, हुई मौत
user

नवजीवन डेस्क

झारखंड के धनबाद जेल में बंद कुख्यात अपराधी अमन सिंह को गोलियों से छलनी कर दिया गया है। जेल में गैंगवार की इस वारदात से सनसनी फैल गई है। अमन सिंह पूर्व डिप्टी मेयर नीरज सिंह की हत्या के अलावा सुपारी किलिंग, रंगदारी, फिरौती वसूली की दर्जन भर से ज्यादा वारदातों का आरोपी था।

झारखंड के धनबाद जेल में बंद कुख्यात अपराधी अमन सिंह को गोलियों से छलनी कर दिया गया है। जेल में गैंगवार की इस वारदात से सनसनी फैल गई है। अमन सिंह धनबाद के पूर्व डिप्टी मेयर नीरज सिंह की हत्या के अलावा सुपारी किलिंग, रंगदारी, थ्रेट कॉल, फिरौती वसूली की दर्जन भर से ज्यादा वारदातों का आरोपी था। उसे जेल के भीतर छह से सात गोलियां मारी गईं।

जेल के अंदर गोली लगने के बाद उसे आनन-फानन में धनबाद स्थित मेडिकल कॉलेज ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। अमन सिंह जेल में बंद रहने के बावजूद धनबाद में आतंक का पर्याय बना हुआ था। उसे गोली मारे जाने की खबर जेल में फैलते ही चारों ओर अफरा-तफरी मच गई। जेल प्रशासन को हालात नियंत्रित करने के लिए पगली घंटी बजानी पड़ी।


इस वारदात की खबर मिलते ही धनबाद डीसी, एसएसपी समेत तमाम आलाधिकारी जेल पहुंच गए। राज्य पुलिस मुख्यालय ने वारदात की जांच को लेकर राज्य स्तरीय तीन सदस्यीय टीम को धनबाद भेजा है। अमन को जेल में किसने गोली मारी और जेल में हथियार कैसे पहुंचा, इसकी जांच की जा रही है।

धनबाद के पूर्व डिप्टी मेयर नीरज सिंह हत्याकांड में यूपी एसटीएफ ने अमन सिंह को यूपी के मिर्जापुर जेल के बाहर मई, 2021 में गिरफ्तार कर धनबाद पुलिस को सुपुर्द किया था। धनबाद जेल में आते ही अमन सिंह के गैंग की हुकूमत सिर्फ जेल के भीतर नहीं, बल्कि पूरे धनबाद कोयलांचल में चलने लगी। उसका गैंग धनबाद और बोकारो के व्यापारियों-डॉक्टरों से रंगदारी वसूलने लगा। उसने सुपारी लेकर कई लोगों की हत्याएं कराई थीं।

अमन सिंह गैंग ने गुजरात के वालसाड के बीजेपी नेता शैलेश पटेल की हत्या भी करवाई थी। उसके गुर्गे आजमगढ़ निवासी वैभव यादव और अयोध्या निवासी आशीष उर्फ सत्यम ने दो और शूटरों के साथ मिल कर शैलेश पटेल को छलनी कर दिया था। बंगाल के आसनसोल के बीजेपी नेता राजू झा की हत्या भी अमन गैंग ने ही करवाई थी। धनबाद के बरवाअड्डा कुर्मीडीह निवासी राजकुमार साव की हत्या का आरोप भी अमन सिंह गैंग पर लगा था। हालांकि धनबाद पुलिस अमन सिंह के खिलाफ लगाए गए आरोपों को अदालत में प्रमाणित करने में फिर सफल नहीं हो पा रही थी। कोर्ट ने उसे कई मामलों में बरी कर दिया था।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;