मध्यप्रदेश: नीमच में दिल दहलाने वाली घटना, आदिवासी युवक को पहले लाठी डंडों पीटा, फिर गाड़ी से बांधकर घसीटा, देखें वीडियो

मध्यप्रदेश के नीमच जिले में हैवानियत वाली घटना सामने आई है, जहां आदिवासी युवक को पीटा गया और उसके बाद उसे वाहन के पीछे बांधकर घसीटा गया, जिससे उसकी मौत हो गई।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

मध्यप्रदेश के नीमच जिले में हैवानियत वाली घटना सामने आई है, जहां आदिवासी युवक को पीटा गया और उसके बाद उसे वाहन के पीछे बांधकर घसीटा गया, जिससे उसकी मौत हो गई। इस मामले में आठ आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है, वहीं वाहन भी जब्त कर लिया गया है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार सिंगोली क्षेत्र के बांणदा गांव में कन्हैयालाल भील अपनी पत्नी की तलाश कर रहा था और वाहनों को भी रोक रहा था। इसी दौरान एक बाइक चालक ने उसे टक्कर मार दी। विवाद हुआ, इसके बाद वाहन चालक अपने कुछ पारिवारिक लोगों और रिश्तेदारों को लेकर मौके पर आया और कन्हैया लाल को पिकअप वाहन के पीछे रस्सी से बांधकर काफी दूर तक घसीटा। इस घटना को छीतर मल गुर्जर ने अपने साथियों के साथ अंजाम दिया।

इस वारदात का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। इस मामले पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी शिवराज सरकार को घेरते हुए पूछा है कि आखिर मध्य प्रदेश में क्या हो रहा है। उन्होंने इस घटना का वीडियो भी साझा किया है।


नीमच के पुलिस अधीक्षक सूरज कुमार वर्मा ने आईएएनएस को बताया है कि इस मामले में आठ आरोपियों को चिन्हित किया गया है , इनमें से मुख्य आरोपी सहित पांच की गिरफ्तारी भी हो चुकी है। वहीं पिकअप वाहन को जप्त कर लिया गया है, इसके अलावा फरार आरोपियों की तलाश जारी है।


कलेक्टर नीमच मयंक अग्रवाल द्वारा मध्यप्रदेश अनुसूचित जाति जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम 2016 के तहत सिंगोली तहसील के ग्राम बांणदा निवासी पीड़ित परिवार को चार लाख 12 हजार 500 रुपए की राहत सहायता स्वीकृत की गई है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia