मैसूर दुष्कर्म मामला: कर्नाटक पुलिस के हाथ अब भी खाली, राष्ट्रीय महिला आयोग ने डीजीपी को लिखा पत्र

कर्नाटक के मैसूर में मौजूद एक प्राइवेट कॉलेज में मेडिकल की पढ़ाई कर रही एक उत्तर प्रदेश की स्टूडेंट से सामूहिक दुष्कर्म मामले पर राष्ट्रीय महिला आयोग ने संज्ञान लिया है। वहीं आयोग ने कर्नाटक के डीजीपी को पत्र भी लिखा है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

कर्नाटक के मैसूर में मौजूद एक प्राइवेट कॉलेज में मेडिकल की पढ़ाई कर रही एक उत्तर प्रदेश की स्टूडेंट से सामूहिक दुष्कर्म मामले पर राष्ट्रीय महिला आयोग ने संज्ञान लिया है। वहीं आयोग ने कर्नाटक के डीजीपी को पत्र भी लिखा है। दरअसल सामूहिक दुष्कर्म मामले पर मुख्यमंत्री ने मामले की जांच के आदेश भी दे दिए हैं। जानकारी के अनुसार मंगलवार को यह घटना शहर के बाहरी इलाके में हुई। पीड़िता अपने मित्र के साथ चामुंडा हिल्स से लौट रही थी।

सामुहिक दुष्कर्म मामले में राष्ट्रीय महिला आयोग ने संज्ञान लेते हुए एक तरफ कर्नाटक के डीजीपी को पत्र लिखा है तो वहीं यह सुनिश्चित करने के लिए भी कहा है कि सभी आरोपियों की पहचान कर और उनकी जल्द गिरफ्तारी की जाए।


आयोग ने पत्र में यह भी लिखा है कि अब तक मामले में सिर्फ एफआईआर दर्ज की गई है लेकिन गिरफ्तारी नहीं हुई है। वहीं आयोग की अध्यक्षा रेखा शर्मा ने कर्नाटक महिला आयोग की चेयरपर्सन से भी इस घटना पर संपर्क किया है।

दूसरी ओर पुलिस की ओर से कहा गया है कि, जब दोनों ने पैसे नहीं दिए तो 6 लोगों ने छात्रा के साथा दुष्कर्म किया और उसके मित्र के साथ मारपीट भी की। पुलिस ने इस मामले पर सतर्कता बर्तते हुए मैसूर पुलिस आयुक्त ने घटनास्थल का दौरा किया और आरोपियों की तलाश के लिए कई टीम गठित भी की है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia