हनीट्रैप में फंसा जवान, अश्लील डांस दिखाती थी ISI की महिला एजेंट, साझा की खुफिया जानकारी

पाकिस्तानी महिला ISI एजेंट ने पहले तो भारतीय सेना के जवान से सोशल मीडिया के जरिए संपर्क साधा। पाकिस्तानी महिला जवान को अपने जाल में फंसाने के लिए वीडियो कॉल करती थी और उससे हथियारों समेत अन्य सैन्य जानकारी हासिल करती थी।

प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर

नवजीवन डेस्क

पाकिस्तान की एक महिला आईएसआई एजेंट के साथ महत्वपूर्ण जानकारी साझा करने के आरोप में जोधपुर रेलवे स्टेशन पर हिरासत में लिए गए दो में से एक भारतीय सैनिक को गिरफ्तार कर लिया गया है जबकि दूसरे को रिहा कर दिया गया है, लेकिन इसे बाद में गवाह के तौर पर काम में लाया जाएगा। पुलिस के सूत्रों ने इसकी जानकारी दी।

गिरफ्तार किए गए सैनिक की पहचान ओडिशा निवासी विचित्र बेहरा के रूप में की गई है। उसे बुधवार को ऑफिशियल सीक्रेट्स एक्ट की धारा तीन (जासूसी) के तहत गिरफ्तार किया गया है।सूत्रों के मुताबिक, पर्याप्त सबूत के अभाव में दूसरे सैनिक को रिहा कर दिया गया है।

इंटेलिजेंस के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक उमेश मिश्रा ने कहा, “यह सैनिक सोशल मीडिया के माध्यम से खुफिया जानकारी को पाकिस्तानी महिला एजेंट के साथ साझा करता था। जानकारी के बदले वह उनसे पैसे भी लेता था।”

उन्होंने आगे कहा, “वह सोशल मीडिया के माध्यम से ही उस महिला के संपर्क में आया था, उस महिला द्वारा भेजे गए प्रश्नों का विश्लेषण करते हुए यह पता चलता है कि वह पाकिस्तान की इंटेलीजेंस की सदस्य है।”

पुलिस के सूत्रों के मुताबिक, बेहरा ने व्हाट्स ऐप के माध्यम से विडियो क्लिप्स के माध्यम से जानकारी भेजी थीं। बेहरा को रिमांड के लिए अदालत में पेश किया जाएगा।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

लोकप्रिय