देखें कैसे हुई थी तिहाड़ में टिल्लू ताजपुरिया की हत्या, दिल दहला देने वाला सीसीटीवी फुटेज आया सामने

ताजपुरिया 2021 रोहिणी कोर्ट शूटआउट का आरोपी है, जिसमें गैंगस्टर जितेंद्र गोगी मारा गया था। खबरों के अनुसार कनाडा में छिपा बैठा गैंगस्टर सतिंदर सिंह बराड़ उर्फ गोल्डी बराड़ ने बदला लेने का हवाला देते हुए ताजपुरिया पर हमले की जिम्मेदारी ली है।

घटना के फोटो और वीडियो विचलित कर सकते हैं।
घटना के फोटो और वीडियो विचलित कर सकते हैं।
user

नवजीवन डेस्क

दिल्ली में उच्च सुरक्षा वाली तिहाड़ जेल के अंदर 2 मई को कुख्यात गैंगस्टर टिल्लू ताजपुरिया की हत्या का चौंकाने वाला दिल दहला देने वाला सीसीटीवी फुटेज सामने आया है। रौंगटे खड़े कर देने वाले फुटेज में पिछले साल मारे गए कुख्यात जितेंद्र गोगी के गिरोह के सदस्य बेहद बेरहमी से ताजपुरिया को छूरे से सैंकड़ों वार कर मारते देखे जा सकते हैं।

सीसीटीवी फुटेज में विचाराधीन कैदियों को बेडशीट की मदद से पहली मंजिल से नीचे उतरते हुए देखा जा सकता है। नीचे उतरने के बाद वह पहले वार्ड फ्लोर पर ताला लगाते हैं। इस बीच, लाल टी-शर्ट पहने एक व्यक्ति को सेल की ओर भागते हुए और उसका दरवाजा बंद करते हुए देखा जा सकता है, दरवाजा बंद नहीं होता है, फिर दो और आदमी बेडशीट का उपयोग करके नीचे उतरते हैं और जबरदस्ती सेल में घुस जाते हैं, जहां हाथापाई शुरू हो जाती है।

इसके बाद वह लोग ताजपुरिया को सेल से बाहर घसीटकर लाते हैं और उसके सिर और शरीर पर बार-बार वार करते हैं। एक बूढ़ा आदमी हस्तक्षेप करने की कोशिश करता है, लेकिन व्यर्थ साबित होता है। हरे रंग की टी-शर्ट पहने एक व्यक्ति पर भी हमला किया गया, उसके हाथ पर खून देखा जा सकता है।

रिपोर्ट के अनुसार, ताजपुरिया पर हमलावरों ने लगभग 50 बार हमला किया, जो कथित तौर पर जितेंद्र गोगी गिरोह के सदस्य हैं। दिल्ली के बाहरी इलाके ताजपुर कलां का रहने वाला सुनील उर्फ ताजपुरिया (33) कड़ी सुरक्षा के बीच तिहाड़ जेल में बंद था। सोशल मीडिया पोस्ट के अनुसार- गैंगस्टर सतिंदर सिंह बराड़, जिसे गोल्डी बराड़ के नाम से भी जाना जाता है, जिसके बारे में माना जाता है कि वह कनाडा में छिपा हुआ है, उसने बदला लेने का हवाला देते हुए ताजपुरिया पर हमले की जिम्मेदारी ली है।


फेसबुक पोस्ट में लिखा- हांजी सत श्री अकाल जी.. राम राम सारे भाइयों को। आज जो टिल्लू ताजपुरिया का मर्डर हुआ है तिहाड़ जेल दिल्ली में, वो हमारे भाई योगेश टुंडा और दीपक तीतर ने किया है। गोगी मान भाई के नुकसान में टिल्लू ने जिम्मेदारी ली थी और ये शुरू से हमारे भाइयों का दुश्मन था। आज गोगी मान ग्रुप वाले भाइयों ने सारे भाइयों का सिर ऊंचा कर दिया बड़े भाई गोगी का बदला लेके.. और भी जो कुत्ते जिंदा रह गए हैं उनका भी नंबर जल्दी आएगा। जिस किसी का भी हाथ है हमारे किसी भाई के नुकसान में उसे कुत्ते की मौत मारेंगे।

पूछताछ के दौरान पता चला कि एक अन्य विचाराधीन कैदी रोहित हमले में घायल हो गया था। अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त (पश्चिम), अक्षत कौशल ने कहा कि जेल स्टाफ ने खुलासा किया कि दीपक उर्फ तीतर (31), योगेश उर्फ गैंदा (30), राजेश उर्फ टुंडा (42) और रियाज खान (39) ने ताजपुरिया पर ताबड़तोड़ चाकुओं से हमला किया था। रोहित ने बीच-बचाव करने का प्रयास किया तो उस पर भी हमला कर घायल कर दिया।


जेल अधिकारियों को शक है कि हमलावरों ने संदेह से बचने के लिए पहली मंजिल पर लगी ग्रिल को पहले से काट कर रख दिया था। हमले से पहले, उन्हें केवल ग्रिल को हटाना था और बेडशीट का इस्तेमाल करते हुए नीचे उतरना था। ताजपुरिया, 2021 रोहिणी कोर्ट शूटआउट का आरोपी है, जिसमें गैंगस्टर जितेंद्र गोगी मारा गया था। जेल के एक अधिकारी ने कहा कि पूरा हमला दो मिनट के भीतर हुआ और कर्मचारियों और सुरक्षाकर्मियों ने तुरंत चारों हमलावरों को पकड़ लिया।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;