लोगों को ठगने के लिए बनाया बंगाल के डीजीपी का फर्जी सोशल मीडिया अकाउंट, राजस्थान से गिरफ्तार

पूछताछ में उसने स्वीकार किया कि उसने लोगों को ठगने और पैसे कमाने के इरादे से राज्य पुलिस के डीजीपी की फर्जी प्रोफाइल खोली थी।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

पश्चिम बंगाल के पुलिस महानिदेशक मनोज मालवीय का फर्जी सोशल मीडिया अकाउंट खोलकर कथित तौर पर लोगों को ठगने का प्रयास करने वाले एक व्यक्ति को राजस्थान में कोलाटा की बिधाननगर सिटी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। सूत्रों ने रविवार को यह जानकारी दी।

धोखेबाज की पहचान पश्चिम बंगाल के अलवर जिले के रहने वाले रशिम खान के रूप में हुई है।सूत्रों ने बताया कि डीजीपी की फर्जी सोशल मीडिया प्रोफाइल पर सबसे पहले बिधाननगर सिटी पुलिस की नजर पड़ी।

प्रोफाइल की विस्तार से जांच करने पर इसकी प्रामाणिकता पर संदेह हुआ. इसलिए डीजीपी के कार्यालय से संपर्क किया गया और उन्होंने प्रोफ़ाइल के फर्जी होने की पुष्टि की।


बिधाननगर सिटी पुलिस के एक सूत्र ने कहा, "हमने राजस्थान से उस प्रोफाइल को संचालित करने वाले अपराधी का पता लगाया। हमारे लोगों की एक टीम राजस्थान गई, उसे गिरफ्तार किया और ट्रांजिट रिमांड पर वापस कोलकाता ले आई।"

पूछताछ में उसने स्वीकार किया कि उसने लोगों को ठगने और पैसे कमाने के इरादे से राज्य पुलिस के डीजीपी की फर्जी प्रोफाइल खोली थी।


उसने यह भी स्वीकार किया कि हालांकि उन्होंने इस फर्जी प्रोफ़ाइल के माध्यम से पैसे के लिए कुछ लोगों को व्यक्तिगत संदेश भेजे थे, लेकिन केरल और कर्नाटक में कुछ को छोड़कर, शायद ही किसी ने उन संदेशों पर सकारात्मक प्रतिक्रिया दी।

आरोपी शख्स गणित में ग्रेजुएट है। जांच अधिकारियों को संदेह है कि वह इस खेल में अकेला नहीं है और शायद वह इसी तरह से लोगों को ठगने वाले बड़े रैकेट का हिस्सा है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;