नरसिंहपुर गोली कांड: केंद्रीय मंत्री के बेटे समेत 6 को पुलिस ने किया गिरफ्तार  

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार में मंत्री और मध्य प्रदेश के दमोह से सांसद प्रहलाद पटेल के बेटे प्रबल पटेल और छह अन्य लोगों को मारपीट करने और एक व्यक्ति को गोली मारने के आरोप में मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया गया।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

आईएएनएस

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार में मंत्री और मध्य प्रदेश के दमोह से सांसद प्रहलाद पटेल के बेटे प्रबल पटेल और छह अन्य लोगों को मारपीट करने और एक व्यक्ति को गोली मारने के आरोप में मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया गया है। इसी मामले में केंद्रीय मंत्री का भतीजा और कई दूसरे फरार हैं। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एरन बारले ने मंगलवार को आईएएनएस को बताया, "पुलिस ने 12 ज्ञात और आठ अज्ञात कुल 20 लोगों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है। जिसमें प्रबल पटेल और छह अन्य को गिरफ्तार कर लिया गया है। शेष की तलाश जारी है।"

उन्होंने बताया कि केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल के बेटे प्रबल को गिरफ्तार किया जा चुका है, जबकि उनके भतीजे और विधायक जालम सिंह पटेल का बेटा मोनू पटेल अब भी फरार है। पुलिस के अनुसार, सोमवार रात गोटेगांव थाना क्षेत्र में एक शादी समारोह से लौट रहे दो लोगों का केद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल के बेटे प्रबल से विवाद हो गया। विवाद बढ़ा तो दोनों पक्षों में मारपीट हुई और गोली भी चली, जिसमें एक व्यक्ति घायल हो गया। घायल व्यक्ति को जबलपुर रेफर किया गया है।

पुलिस ने बताया कि नौनी निवासी हिमांशु राठौर ने प्राथमिकी दर्ज कराई है, जिसमें कहा गया है कि 17 जून को वह अपने साथी राहुल राजपूत के साथ ग्राम कमोद स्थित प्रखर गार्डन में एक शादी में आया था। बाइक से लौटते समय बैलहाई गांव में रात करीब साढ़े 11 बजे सुरेंद्र राय के घर के सामने प्रबल पटेल, दुर्गेश पटेल, सौरभ पटेल और उनके साथियों ने गालियां दीं, विरोध करने पर मारपीट शुरू कर दी। उसके बाद दोनों को प्रबल और उसके साथी अलग-अलग बाइक से किसी स्थान पर ले गए और फिर मारपीट की, गोली चलाई, जिसमें एक व्यक्ति घायल हो गया।

दूसरी तरफ, प्रहलाद पटेल के भाई और विधायक जालम सिंह ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने प्रबल और मोनू के गोटेगांव से बाहर होने का दावा किया और कहा कि दोनों को बेवजह फंसाया गया है।

लोकप्रिय