उत्तर प्रदेश: जौनपुर में घर में घुसकर पहले लाठी-डंडों से पीटा, फिर कई राउंड की फायरिंग, 5 लोगों को लगी गोली

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने राज्य की कानून व्यवस्था को लेकर योगी सरकार पर सवाल खड़े किए हैं।

प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश के जौनपुर में बेखौफ दबंगों का आतंक देखने को मिला है। सरपतहां थाना इलाके के सेखई गांव में घर में घुसकर दबंगों ने हमला कर दिया। घर वालों की पहले लाठी डंडों से पिटाई की। इसके बाद कई राउंड फायरिंग भी की। पांच लोगों को गोली लग गई। घायलों को इलाज के लिए राजकीय पुरुष अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घायलों में दो लोगों की हालत नाजुक देख डॉक्टरों ने जिला अस्पताल रेफर कर दिया।

पूरा मामला क्या है?

सेखई गांव के रहने वाले राम मिलन यादव के मकान के पास रविवार रात पड़ोस के कुछ लोगों से किसी बात को लेकर विवाद हो गया। राम मिलन का बेटा नंद किशोर बीच-बचाव करने पहुंचा। जब मामला नहीं सुलझा तो नंदकिशोर ने घटना की सूचना पुलिस को दी। इस बात से नाराज एक पक्ष के करीब 15 की संख्या में दबंग युवक राम मिलन यादव के घर पर लाठी डंडों और हथियारों के साथ हमला कर दिया। हमले में राम मिलन यादव समेत परिवार के 6 लोग घायल हो गए। सूचना मिलने क बाद पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया।


अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर खड़े किए सवाल

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने राज्य की कानून व्यवस्था को लेकर योगी सरकार पर सवाल खड़े किए हैं। उन्होंने अपने एक्स हैंडल पर पोस्ट किया, जौनपुर में सरेआम 5 लोगों को गोली मारने की वारदात दिखा रही है कि आज जबकि प्रदेश सबसे चाकचौबंद सुरक्षा व्यवस्था के घेरे में है तब अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हैं, तो सोचिए बाकी दिनों में उत्तर प्रदेश का क्या हाल होता होगा। उन्होंने कहा कि लगता है एक गोली बीजेपी सरकार के अपराध के खिलाफ जीरो टॉलरेंस के दावे को भी मारी गई है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;