उत्तर प्रदेश: BJP सांसद के बेटे पर फायरिंग मामले में पुलिस का चौंकाने वाला खुलासा, वारदात में इस्तेमाल हथियार बरामद

लखनऊ के पुलिस कमिश्नर ने बताया कि सांसद के बेटे के साले ने पूछताछ में कबूल किया कि उन्होंने ही अपने बहनोई के कहने पर गोली चलाई थी। सांसद जी के बेटे सुरक्षित हैं और अस्पताल से डिस्चार्ज हो चुके हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बीजेपी सांसद कौशल किशोर के बेटे आयुष को गोली मारने के मामले में लखनऊ के पुलिस कमिश्नर ने प्रेस से बात की। उन्होंने चौंकाने वाला खुलास किया है। उन्होंने बताया, “जांच में पता चला कि सांसद के बेटे के साथ उनके साले भी थे। CCTV फुटेज और पूछताछ से कुछ ऐसे फुटेज सामने आए, जिसमें इनके साले पीछे हथियार छुपाते दिखाई दे रहे थे। सांसद के बेटे के घर में घटना में इस्तेमाल पिस्टल मिला है।”

लखनऊ के पुलिस कमिश्नर ने बताया, “सांसद के बेटे के साले ने पूछताछ में कबूल किया कि उन्होंने ही अपने बहनोई के कहने पर गोली चलाई थी। सांसद जी के बेटे सुरक्षित हैं और अस्पताल से डिस्चार्ज हो चुके हैं। सांसद के बेटे के साले का कहना है कि इस घटना में वे कुछ लोगों को फंसाना चाहते थे।”


वहीं, इस पूरी घटना पर बीजेपी सांसद कौशल किशोर ने कहा, “मेरे बेटे आयुष ने लगभग 2 बजे मुझे बताया कि उसे गोली मारी गई है। उसने यह भी कहा कि जब घटना हुई तो वह अपने साले के साथ बाहर गया था। अगर आयुष साले ने उस पर गोली चलाई, तो आयुष को इसे साझा करना चाहिए। पुलिस की जांच जारी है। मैंने अभी तक एफआईआर दर्ज नहीं करवाया है।”

सुबह यह खबर आई थी कि बाइक सवार बदमाशों ने बीजेपी सांसद के बेटे को गोली मारी है। बताया गया था कि बीजेपी सांसद आयुष तड़के मड़ियांव होकर घर लौट रहे थे। इसी दौरान जौसे ही वह छठा मील के पास पहुंचे बदमाशों ने उनके ऊपर फायरिंग शुरू कर दी। गोली लगने के बाद घायल सांसद के बेटे को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वारदात के बाद लखनऊ पुलिस में हड़कंम मच गया था। घटना के कुछ ही देर के बाद अब पुलिस ने इस मामले का खुलासा करने का दावा किया है। पूरे मामले की जांच जारी है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;