उत्तर प्रदेश में नहीं थम रहा दरिंदगी का सिलसिला, हाथरस और बलरामपुर के बाद अब बुलंदशहर में नाबालिग से रेप

पीड़िता के परिजनों का कहना है कि आरोपी को वारदात के दौरान ही उन्होंने पकड़ लिया था, लेकिन आरोपी के घर वालों ने छुड़ाकर उसे मौके से भगा दिया। पीड़िता के परिजनों का कहना है कि उनकी बच्ची घर के पास खड़े ट्रक के पास मिली।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश में रेप जैसी घिनौनी वारदात का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। हाथरस और बलरामपुर के बाद अब बुलंदशहर में 14 साल की नाबालिग से रेप का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि बीती रात नाबालिग घर के आंगन में अपने परिजनों के साथ सो रही थी। इसी दौरान पड़ोस में रहने वाला आरोपी घर में घुसा और नाबालिग को नशीला पदार्थ सुंघाकर उठा ले गया। घर से कुछ दूरी पर खड़े ट्रक के पास लेजाकर उसने घिनौनी वारदात को अंजाम दिया।

बताया जा रहा है कि आरोपी को वारदात के दौरान ही परिजनों ने पकड़ लिया था, लेकिन आरोपी के घर वालों ने छुड़ाकर उसे मौके से भगा दिया। पीड़िता के परिजनों का कहना है कि उनकी बच्ची घर के पास खड़े ट्रक के पास मिली। आरोपी उसके साथ रेप कर रहा था। वहीं, पीड़िता का कहना है कि आरोपी ने तेजाब से उसके चेहरे को जलाने की धमकी भी दी।

इस सबंध में बुलंदशह के एसपी का भी बयान आया है। उन्होंने बताया कि कल रात को काकोर इलाके के एक गांव में एक किशोरी के साथ उसके पड़ोसी ने कथित तौर पर बलात्कार किया। एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने कहा, “मामला दर्ज कर लिया गया है। पीड़िता का मेडिकल परीक्षण कराया जा रहा है, आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।”

उत्तर प्रदेश में महिलाओं के खिलाफ अपराध का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। इससे पहले कल ही बलरामपुर में एक दलित छात्रा के साथ दुष्कर्म की खबर सामने आई थी। खबरों के मुताबिक, बीए दूसरे वर्ष की छात्रा को घर लौटते वक्त अगवा कर लिया गया। आरोपियों ने छात्रा को नशीला इंजेक्शन देकर दुष्कर्म किया और फिर पीट-पीटकर उसके हाथ पैर और कमर तोड़ दी। छात्रा के बेहद गंभीर हालत में अस्पताल ले जाया गया, लेकिन उसने रास्ते में ही दम तोड़ दिया।

इन दो घटनाओं से पहले हाथरस में दलित युवती की घटना से पूरे देश में उबाल है। हाथरस की पीड़िता से दरिंदगी का मामला अभी शांत भी नहीं हो पाया था कि प्रदेश में दो और रेप के मामले सामने आ गए। यूपी में लगातार महिलाओं के खिलाफ बढ़ रहे अपराध से लोग आक्रोशित हैं और अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।

Published: 1 Oct 2020, 9:01 AM
लोकप्रिय
next