अपराध

यूपी: मेरठ के अस्पताल में पहले महिला मरीज को लगाया नशे का इंजेक्शन फिर आईसीयू में 3 लोगों ने किया गैंगरेप

उत्तर प्रदेश के मेरठ में एक अस्पताल में महिला मरीज ने अस्पताल के ही डॉक्टर समेत तीन कर्मचारियों पर गैंगरेप करने का आरोप लगाया है। महिला का आरोप है कि उसे नशीला इंजेक्शन देकर पहले बेहोश किया गया और उसके बाद उसके साथ गैंगरेप किया गया।

फोटो: सोशल मीडिया 

नवजीवन डेस्क

योगी सरकार में महिलाओं और बच्चियों की सुरक्षा को लेकर सवाल उठने लगे हैं। मेरठ में एक छात्रा से सरेराह छेड़छाड़ और बदसलूकी के मामला अभी थमा भी नहीं था कि अब एक निजी अस्पताल में महिला मरीज के साथ नशे का इंजेक्शन देकर गैंगरेप करने का मामला सामने आया है। महिला का आरोप है कि उसे नशीला इंजेक्शन देकर पहले बेहोश किया गया और उसके बाद उसके साथ डॉक्टर और कर्मचारियों ने गैंगरेप किया। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने तीनों आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है।

खबरों के मुताबिक, 21 मार्च को महिला मरीज को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। मरीज महिला पेट की समस्या से काफी दिनों से पीड़ित थी। उसे इलाज के दौरान आईसीयू में भर्ती कराया गया। महिला का आरोप है शनिवार रात अस्पताल कर्मचारियों ने महिला के परिजन को घर भेज दिया। उसके बाद महिला नर्स ने उसे इंजेक्शन लगाया, जिसके बाद वो बेहोश हो गई। महिला के मुताबिक, बेहोशी की हालत में उसके साथ गैंगरेप किया गया। महिला ने होश आने पर अपने परिवार को घटना की जानकारी दी जिसके बाद परिजन ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई।

घटना की जानकारी मिलते ही एसपी सिटी, एसडीएम और थाना प्रभारी अस्पताल पहुंचे और अस्पताल में लगे सीसीटीवी कैमरे खंगाले। एसपी सिटी अखिलेश नारायण सिंह ने इस मामल में बताया कि घटना की जांच की जा रही है। आईसीयू के दूसरे मरीज घटना की जानकारी से इनकार कर रहे हैं। अस्पताल के सीसीटीवी कैमरे बंद मिले। महिला की तहरीर पर तीन कर्मचारियों के खिलाफ रेप की एफआईआर लिख ली गई है। पूछताछ के लिए तीन लोगों को हिरासत में ले रखा है। फिलहाल इस मामले में पुलिस अभी जांच कर रही है। जांच के बाद ही उचित कार्रवाई करने की बात कही जा रही है।

Published: 25 Mar 2019, 11:35 AM
लोकप्रिय