गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंजा राजधानी दिल्ली का यमुना विहार! पिता-बेटे को पार्किंग विवाद में मारी गई गोली

सौरभ अग्रवाल मुताबिक, देखते ही देखते कार मालिक ने तमंचे लिए 10-15 लोगों को इकट्ठा कर लिया। फिर, इस समूह के एक व्यक्ति ने मेरे पिता और भाई को गोली मार दी। मेरे पिता की हालत गंभीर है और घायल भाई एक निजी अस्पताल में भर्ती है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

देश की राजधानी दिल्ली का यमुना विहार गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंज उठा है। बीती रात कार पार्किंग को लेकर हुआ विवाद इतना बढ़ा कि कुछ लोगों ने पिता और बेटे को गोली मार दी। फायरिंग के बाद इलाके में हड़कंप मच गया। गोलीबारी में घायल पिता और बेटे को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनकी हालत गंभीर है।

इस घटना के बारे में सौरभ अग्रवाल ने बताया, “बीती रात जब मेरे पिता और भाई घर लौटे, तो उन्होंने देखा कि एक कार उनके सामने सड़क को रोक खड़ी की गई है। उन्होंने कार मालिक से अपना वाहन हटाने के लिए आग्रह किया, लेकिन वह उन्हें गाली और धमकाने लगा।”


सौरभ अग्रवाल मुताबिक, देखते ही देखते कार मालिक ने तमंचे लिए 10-15 लोगों को इकट्ठा कर लिया। फिर, इस समूह के एक व्यक्ति ने मेरे पिता और भाई को गोली मार दी। मेरे पिता की हालत गंभीर है और घायल भाई एक निजी अस्पताल में भर्ती है।

सूचना मिलने के बाद पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। पुलिस ने केस दर्ज कर पूरे मामले की जांच शुरू कर दी है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;