बुलंदशहर हिंसा: इंस्पेक्टर सुबोध कुमार की हत्या में शामिल लोगों में बजरंग दल के नेता का नाम नहीं, चार्जशीट दाखिल

पुलिस के मुताबिक प्रशांत नट, लोकेंद्र, राहुल, डेविड और जॉनी सहित सभी पांच आरोपियों ने सुबोध की हत्या की बात स्वीकार की है। हालांकि इस मामले में पुलिस और भी अपराधियों की खोज में लगी हुई है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

पिछले साल दिसंबर में उत्तर प्रदेश बुलंदशहर के सियानी गांव में गौ हत्या की अफवाहों को लेकर हिंसा भड़काने और एसएचओ सुबोध कुमार की हत्या मामले में लगभग 3 महीने बाद मामले की जांच कर रही स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम ने चार्जशीट दाखिल की है जिसमें 38 लोगों को नामजद किया गया है। इनमें 33 लोगों पर इलाके में दंगा भड़काने जबकि बाकी 5 लोगों पर सुबोध कुमार की हत्या का आरोप है। हालांकि इस घटना के बाद से ही एसएचओ सुबोध कुमार की हत्या के मुख्य आरोपी माने जा रहे बजरंग दल के स्थानीय नेता योगेश राज का इस चार्जशीट के उन 5 लोगों में नाम नहीं है।

मामले की जानकारी देते हुए बुलंदशहर के वर्तमान एसपी अतुल कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि 3 दिसंबर को बुलंद शहर के सियानी गांव में चिंगरावटी पुलिस चौकी पर भीड़ ने आगजनी कर दी थी जिसमें चौकी के एसएचओ सुबोध कुमार के ऊपर जानलेवा हमला किया गया। इस हमले में सुबोध कुमार की मौत हो गयी थी। चार्जशीट में नामजद 33 लोगों पर इलाके में हिंसा और आगजनी करने का आरोप है। इन 33 लोगों में बजरंग दल के नेता योगेश पर गैर कानूनी रूप से लोगों को भड़काने और भीड़ इकठ्ठा करने का आरोप लगाया गया है।

पुलिस के मुताबिक़ प्रशांत नट, लोकेंद्र, राहुल, डेविड और जॉनी सहित सभी पांच आरोपियों ने सुबोध की हत्या की बात स्वीकार की है। हालांकि इस मामले में पुलिस और भी अपराधियों की खोज में लगी हुई है।

गौरतलब है कि पिछले साल दिसंबर में बुलंदशहर के गांव स्यानी में कुछ लोगों ने कथित रूप से गौकशी की हत्या की अफवाह फैलाते हुए इलाके में दंगा भड़काने के लिए चिंगरावटी पुलिस चौकी पर हमला बोल दिया था। उस समय पुलिस चौकी के इंचार्ज सुबोध कुमार थे। सुबोध ने लोगों को समझाने के कोशिश की लेकिन इस पर उनकी हत्या कर दी गयी। बता दें कि सुबोध कुमार कुछ साल पहले उत्तर प्रदेश के दादरी में हुए अखलाक हत्याकांड की जांच कर कर रहे थे।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय