अर्थ जगत की 5 बड़ी खबरें: SBI ने अपने ग्राहकों को दिया झटका और एफसीआई ने 110 रुपए सस्ता किया गेहूं

सरकारी बैंक एसबीआई ने ग्राहकों को झटका देते हुए आरडी की ब्‍याज दरों में बदलाव किया है। एसबीआई ने आरडी खातों पर 0.15 फीसदी ब्‍याज घटाया है। अब 1 से 10 साल की RD पर ब्याज दर 6.25 फीसदी से घटकर 6.10 फीसदी हो गई है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक एसबीआई ने अपने ग्राहकों को झटका दिया है। बैंक ने आरडी की ब्‍याज दरों में बदलाव किया है। एसबीआई ने आरडी खातों पर 0.15 फीसदी ब्‍याज घटाया है। अब 1 से 10 साल की RD पर ब्याज दर 6.25 फीसदी से घटकर 6.10 फीसदी हो गई है। नई दरें 10 जनवरी से लागू कर दी गई हैं। बता दें कि बैंक ने पहले एफडी के रेट में संशोधन किया था और अब आरडी पर भी ब्‍याज घटा दिया गया है।

अब इतना मिलेगा ब्‍याज

1 से 2 साल : 6.10 फीसदी
2-3 साल : 6.10 फीसदी
3-5 साल : 6.10 फीसदी
5-10 साल : 6.10 फीसदी

गडकरी बोले- भारत को पांच हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का लक्ष्य मुश्किल, मगर मुमकिन

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने शनिवार को कहा कि देश को वर्ष 2024-25 तक 5,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का लक्ष्य हालांकि कठिन है, लेकिन घरेलू उत्पादन बढ़ाने और आयात पर निर्भरता घटाने जैसे कदमों से इसे हासिल किया जा सकता है। गडकरी ने इंदौर मैनेजमेंट एसोसिएशन के अंतरराष्ट्रीय प्रबंधन सम्मेलन में कहा, “किसी भी लक्ष्य को प्राप्त करने के लिये मजबूत राजनीतिक इच्छाशक्ति बेहद महत्वपूर्ण है। ऐसी ही इच्छाशक्ति जताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को 5,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का लक्ष्य तय किया है। यह लक्ष्य कठिन जरूर है। लेकिन असंभव नहीं है।”

उन्होंने कहा, “हमारे देश में संसाधनों की प्रचुरता तो है ही उत्पादन क्षमता भी बेहतर है। इसके बावजूद हम हर साल दवाओं, चिकित्सा उपकरणों, कोयला, तांबा, कागज आदि वस्तुओं के आयात पर करोड़ों रुपये खर्च कर रहे हैं। अगर हमें 5,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनना है, तो हमें चीजों का आयात करने के बजाय इनका घरेलू उत्पादन बढ़ाना होगा।”

दिल्ली में 3 दिनों में पेट्रोल 44 पैसे लीटर सस्ता, डीजल 45 पैसे

पेट्रोल और डीजल के दाम में शनिवार को लगातार तीसरे दिन कटौती जारी रही। इन तीन दिनों में देश की राजधानी दिल्ली में पेट्रोल 44 पैसे प्रति लीटर सस्ता हो गया है, जबकि डीजल के दाम में उपभोक्ताओं को 45 पैसे प्रति लीटर की राहत मिली है। तेल विपणन कंपनियों ने शनिवार को दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल के दाम में 15 पैसे प्रति लीटर की कटौती की। वहीं, डीजल के दाम में दिल्ली और कोलकाता में 16 पैसे, जबकि मुंबई और चेन्नई में 17 पैसे प्रति लीटर की कटौती की गई है।

इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, दिल्ली, कोलकता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल के दाम घटकर क्रमश: 75.26 रुपये, 77.85 रुपये, 80.85 रुपये और 78.19 रुपये प्रति लीटर हो गया है। वहीं, चारों महानगरों में डीजल की कीमत भी घटकर क्रमश: 68.61 रुपये, 70.97 रुपये, 71.94 रुपये और 72.50 रुपये प्रति लीटर हो गई है।

एफसीआई अब 110 रुपये कुंटल कम दाम पर बेचेगा गेहूं

भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) अब खुले बाजार में 110 रुपये कुंटल कम भाव पर गेहूं बेचेगा। एफसीआई के गोदामों में अभी 300 लाख टन से ज्यादा गेहूं पड़ा हुआ है और इस साल गेहूं की रिकॉर्ड पैदावार होने की संभावना है। ऐसे में एफसीआई को अगले सीजन में गेहूं की खरीद के लिए अपना भंडार खाली करना होगा। केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय ने एफसीआई को जारी एक पत्र में ओपन मार्केट सेल्स स्कीम के तहत घरेलू बाजार में गेहूं की ब्रिकी के लिए रिजर्व प्राइस में संशोधन किया है। संशोधित दर के अनुसार, गेहूं की एफएक्यू क्वालिटी का रिजर्व प्राइस चालू विपणन वर्ष 2019-20 की बची हुई अवधि में 2,135 रुपये प्रति कुंटल होगा। इससे पहले गेहूं का रिजर्व प्राइस चौथी तिमाही के लिए 2,245 रुपये प्रति कुंटल था।

वहीं, अंडर रिलैक्स्ड स्पेशिफिकेशन यानी यूआरएस कैटेगरी के गेहूं का रिजर्व प्राइस 2,080 रुपये प्रति कुंटल होगा। कारोबारी सूत्रों ने बताया कि जहां गेहूं की क्वालिटी कमजोर है, वहां एफसीआई 2,080 रुपये प्रति कुंटल के भाव पर गेहूं बेचेगा।

इसके अलावा, एफसीआई द्वारा रैक लोडिंग पर भी 26 रुपये प्रति कुंटल अतिरिक्त देना होगा। हालांकि महाराष्ट्र के जींस कारोबारी किरण कटकरे ने बताया कि सरकार द्वारा खुले बाजार में गेहूं की बिक्री का दाम अभी भी देश के विभिन्न हिस्सों में बाजार भाव से ऊंचा है। उन्होंने कहा कि 2,135 रुपये प्रति कुंटल के इस भाव पर 170 रुपये ढुलाई खर्च के बाद नासिक में कारोबारियों को एफसीआई का गेहूं 2,305 रुपये प्रति कुंटल पड़ेगा, जबकि उत्तर प्रदेश से इस समय 2,270 रुपये प्रति कुंटल के भाव से नासिक में गेहूं जा रहा है। एफसीआई के पास एक जनवरी, 2020 को 3,27.96 लाख टन गेहूं का भंडार था, जोकि पिछले साल के इसी महीने के मुकाबले 56.75 लाख टन ज्यादा है।

मस्क का 2050 तक 10 लाख लोगों को मंगल पर भेजने की योजना

स्पेस एक्स के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) एलन मस्क का लक्ष्य वर्ष 2050 तक 10 लाख लोगों को मंगल ग्रह पर भेजना है। उन्होंने एक साथ कई ट्वीट्स कर खुलासा किया कि वे लाल ग्रह पर आबादी फैलाने और मानवों को बहुग्रही बनाने का मुश्किल काम कैसे करेंगे। स्टारशिप प्रोग्राम की और जानकारी देते हुए मस्क ने कहा कि आधी शताब्दी तक लाल ग्रह पर मानवों को पहुंचाने के लिए रॉकेट कई मेगाटन सामान ले जाएगा।

उन्होंने कहा, “बहुग्रही जीवन संभव बनाने के लिए प्रतिवर्ष कई मेगाटन की जरूरत होती है।” ट्विटर पर मस्क के 3.07 करोड़ फॉलोवर्स हैं। उन्होंने ट्वीट किया, "स्टारशिप डिजायन का लक्ष्य तीन उड़ानें प्रतिदिन की औसत दर, जिससे प्रतिवर्ष लगभग 1,000 उड़ानें तो प्रति 10 जहाजों से कक्षा को एक मेगाटन की प्राप्ति होगी।"

लोकप्रिय
next